डीजल/पेट्रोल की बढ़ोत्तरी को लेकर कांग्रेसियों ने तहसील पर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । आज कांग्रेसियों ने डीजल/पेट्रोल के मूल्यों में हो रही बेतहासा वृद्धि को लेकर जिलाध्यक्ष रामराज सिंह गोड़ के नेतृत्व में राष्ट्रपति के नामित ज्ञापन राबर्ट्सगंज तहसील पर सदर तहसीलदार को सौंपा गया। जिलाध्यक्ष रामराज सिंह गोड़ ने कहा कि जहां एक तरफ देश स्वास्थ्य व आर्थिक महामारी से लड़ रहा है वहीं दूसरी तरफ मोदी सरकार पेट्रोल और डीजल की कीमत लगातार बढ़ाकर मुनाफाखोरी कमाने का काम कर रही है। मई 2014 में जब भाजपा ने सत्ता संभाली थी उस समय पेट्रोल उत्पाद शुल्क 9.20 पैसे प्रति लीटर एवं डीजल पर 3.46 रू0 प्रति लीटर था, पिछले 6 सालों में केंद्र की भाजपा सरकार ने पेट्रोल का उत्पादन शुल्क में 23.78 रूपया प्रति लीटर एवं डीजल में 28.37 रुपए प्रति लीटर के अतिरिक्त बढ़ोत्तरी कर दी है। चौंकाने वाली बात यह भी है कि पिछले 6 सालों में भाजपा सरकार द्वारा डीजल के उत्पाद शुल्क में 820% व पेट्रोल के उत्पात शुल्क में 254% की वृद्धि की गई है। डीजल/पेट्रोल लगने वाले उत्पाद शुल्क बार-बार करके मोदी सरकार ने पिछले 6 सालों में 18लाख करोड़ जमा किए हैं। 3 महीने के लॉक डाउन में आम जनमानस से मुनाफाखोरी जमा करने का भी काम किया गया।

इस दौरान अरविंद सिंह, कौसलेश पाठक, जितेंद्र पासवान, दया शंकर पांडेय, अमरेश देव पांडेय, राजीव त्रिपाठी, आशुतोष दुबे “आशु”, मनोज मिश्रा, धीरज पांडेय, रामानंद पांडेय, संगीत श्रीवास्तव, उषा चौबे, प्रमोद पांडेय, सुनीता तिवारी, समीम अख्तर खान, सेताराम केसरी, निगम मिश्रा समेत अन्य कांग्रेसी उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!