शिक्षा विभाग ने “सुरक्षित दादा-दादी, नाना-नानी अभियान” का वर्चुअल प्लेटफॉर्म के माध्यम से किया बैठक आयोजित

अखिलेश कुमार सिंह (संवाददाता)

-पहले दिन 2 न्याय पंचायत से 115 से अधिक शिक्षकों ने लिया भाग

रामगढ़। कोरोना महामारी से जागरुकता और बचाव के क्रम में 30 जून 2020 से बेसिक शिक्षा, चतरा में “सुरक्षित दादा-दादी, नाना-नानी अभियान” “गूगल मीट” के माध्यम से शुरू हुई। इन बैठकों में चतरा के 2 (भवनगबा और रामगढ़) न्याय पंचायत के 115 से अधिक शिक्षकों ने प्रतिभाग किया।
बेसिक शिक्षा अधिकारी गोरखनाथ पटेल एवं खंड शिक्षा अधिकारी (चतरा) दिलीप कुमार ने भी बैठक में शामिल हुए। शिक्षकों का मनोबल बढ़ाते हुए उनसे बढ़-चढ़ कर अभियान से जुड़ने की आपील की। साथ ही बुजुर्गों के बीच जागरूकता बढ़ाने की बात कही।

नीति आयोग, जिला प्रशासन और पिरामल फाउंडेशन 112 महत्वाकांशी जनपदों में ये अभियान बुजुर्ग व्यक्तियों के बीच कोरोना से संबंधित जागरुकता और रोकथाम के लिए चला रहा है। सोनभद्र जनपद में अभी तक 14000+ बुजुर्गों एवं उनके परिवार तक फ़ोन के माध्यम से पहुंचाया गया है। इस बैठक में एसआरजी विद्या सागर, एसआरजी विनोद कुमार, एसआरजी संजय मिश्रा, एआरपी चंद्र प्रकाश, एआरपी शशि भूषण सिंह, इंद्र देव पांडेय, पिरामल फाऊंडेशन से सुहैल अंसारी, सौम्या सिन्हा, पिरामल फेल्लो बीनू गुप्ता एवं शुभम मिश्रा उपस्थित रहे।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!