सेवा समाप्ति के आदेश से मंडी समिति के कम्प्यूटर आपरेटरों में रोष

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

– नाराज ऑपरेटरों ने मंडी निदेशक को भेजा पत्र

सोनभद्र । कृषि उत्पादन मंडी समिति राबर्ट्सगंज द्वारा कम्प्यूटर ऑपरेटरों की सेवा समाप्ति से आदेश से नाराज है। नाराज ऑपरेटरों ने मंडी निदेशक, लखनऊ को पत्र भेजकर उचित निर्णय लेने की गुहार लगाया है। मंडी के कम्प्यूटर आपरेटर दोविंद्र कुमार, शशांक शेखर, सुनील कुमार, प्रदीप कुमार गुप्ता, रोहित कुमार गुप्ता ने मंडी निदेशक को पत्र भेजकर कहा है कि सभी कम्प्यूटर आपरेटर के पद पर बीते 4-5 वर्ष से कार्यरत है। हम सभी आपरेटरों ने वर्तमान समय मे इस महामारी कोविड-19 कोरोना में जब पूरे देश मे लॉक डाउन चल रहा था, तब भी हम सभी ने अपनी जान की परवाह न करते हुए चिकित्सा एवं पुलिस विभाग के तरह लगातार डयूटी करते रहे। जहां एक तरफ प्रदेश सरकार प्रवासी मजदूरों को रोजगार देने की बात कह रही है, वहीं दूसरी तरफ 17 मई के आदेश के क्रम में हम सभी आपरेटरों की सेवा समाप्त किये जाने का आदेश जारी किया गया है। एक तरफ रोजगार देने की बात सरकार कर रही है दूसरी तरफ हम सभी जो कि मंडी समिति राबर्ट्सगंज (प्रदेश की पूरी मंडियों के कम्प्यूटर आपरेटरों) के आपरेटरों का रोजगार समाप्त करने का आदेश जारी किया गया है।

मंडी समिति राबर्ट्सगंज के समस्त आपरेटर आउटसोंग कमर्चारी जो कि मंडी समिति कार्यालय राबर्ट्सगंज में एवं भारत सरकार की संचालित राष्ट्रीय कृषि बाजार (ई-नाम) परियोजना के सफल संचालन हेतु कार्य कर रहे है जबकि हम सभी काफी समय से मंडी समिति में कार्यरत है। ऐसी स्थिति में इस महामारी के दौर में नौकरी अगर छिन ली गई तो हम लोग बेरोजगार हो जाएंगे। उक्त कर्मचारियों ने मांग किया कि हम सभी कम्प्यूटर आपरेटरों की नौकरी यथावत रहने दें। जिससे हम सभी का परिवार का भरण पोषण हो सके।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!