तेंदुए के हमले से ग्रामीण घायल, ग्रामीणो के हमले से तेंदुए की मृत्यु

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही (ब्यूरो)

ग़ाज़ीपुर । ग़ाज़ीपुर नोनहरा सुसुण्डी गाँव मे आज एक तेन्दुआ को ग्रामीणों ने मार गिराया।गाजीपुर स्थानीय नोनहरा थाना क्षेत्र के सुसुण्डी गाव में तेंदुए के हमले से महेंद्र भारद्वाज घायल हो गया। ग्रामीणो ने तेंदुए को घेर कर मार डाला। यह घटना 10.30 बजे सुबह की है। सुबह के समय महेंद्र नाम का युवक अपने ट्यूबबेल पर था और वहाँ कुछ छोटे बच्चे खेल रहे थे, अचानक कोई जंगली जानवर के आने से बच्चे शेर-शेर चिल्लाने लगे उसी वक़्त महेंद्र ने देखा कि कोई जानवर गेंहू के खेत मे घुस गया और वो उसे मारने के लिए आगे ही बढे थे कि जानवर ने हमला कर दिया। महेंद्र अपनी जान बचा कर भागा तो देखा कि गांव के पोखरे के पास सरपट में छिप गया तब तक शोर शराबा सुन कर गाव के लोग लाठी डंडे लेकर आये और खबर पाकर पुलिस थाना नोनहरा ,क्षेत्राधिकारी कासिमाबाद ,और वन विभाग के लोग मौके पर पहुचे।गिरीश चंद्र त्रिपाठी डीएफओ ने कहा कि यहां आधा किमी में कोई जानवर नही है आप सभी लोग अपने घर जाइये लेकिन गाव के लोगो को विश्वास नही हुआ और ग्रामीण इकट्ठा हो कर सरपट में शोर मचाने लगे तो वहां से तेंदुआ भागा और गांव के विनोद पर पंजे से प्रहार कर दिया तब ग्रामीणों ने विनोद को बचाने के लिए तेंदुए पर प्रहार कर दिया और तेंदुआ मारा गया। मौके पर ग्रामीणों ने बताया कि की यदि‍ वन विभाग जाल लगा दिया होता तो गांव का कोई घायल नही हुआ होता और तेंदुआ भी बच गया होता । इसके पूर्व भी स्थानीय क्षेत्र के नगवा उर्फ नवापुरा में भी एक महीने पूर्व यही तेंदुआ को लोगो ने देखा था और एक व्यक्ति घायल भी हुआ था, लेकिन कोई भी अधिकारी गंभीरता से नही लिया था।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!