कारागार के बंदियों द्वारा सेनिटाइजर ट्रनैल का किया निर्माण

अरविंद चौबे (संवाददाता)

– कोरोनावायरस के बचाव के लिये मुख्य गेट पर हुआ स्थापना

मारकुंडी । जिला कारागार के अधीक्षक की पहल और बंदियों की मेहनत से कोरोना वायरस के प्रवेश को रोकने के लिए कारागार के प्रवेश द्वार पर सेनिटाइजर ट्रनैल की स्थापना कर दिया गया है। अब जेल में प्रवेश करने वाला व बाहर जाने वाला हर व्यक्ति इस इस सैनेटाइजर ट्नैल से गुजरने वाले इस कोरोना वायरस से सुरक्षित रहेंगे।
इस सम्बन्ध में मिजाजी लाल जेल अधीक्षक ने बताया कि इसे बंदियों द्वारा दिन रात एक कर के दो दिन में बनाकर तैयार कर लिया गया था । और इसे 10 अप्रैल से गुख्य गेट पर लगा कर चालू कर दिया गया। यह सेनिटाइजर ट्रनैल 4 फीट चौड़ा 7 फीट लम्बा व 7 फीट ऊंची बनाई गई है। इसमें लोहे के पाइपों का फ्रेम तैयार कर उसमें नीले रंग की फाइबर की सीट फीट कर के बनाई गई है। तथा प्रवेश एवं निकासी द्वारों पर प्लास्टिक की पन्नी का दरवाजा बनाया गया है जिसे प्रवेश व निकासी के समय आसानी से हटाया जा सकता है। ट्रनैल के अन्दर स्वचालित मशीनों द्वारा सेनिटाइजर की फागिना होती है। जिससे हर व्यक्ति की शरीर समेत कपड़े एक साथ सैकेंडो में सेनिटाइजर किया जा सकता है। इसमें उच्चकोटि के सेनिटाइजर का प्रयोग किया जा रहा है। साथ ही बंदियों द्वारा फेस मास्क बनाने का कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। अब तक बंदियों द्वारा लगभग 10 हजार माक्स बनाया जा चुका है जो विभिन्न संस्थाओं को वितरण भी किया जा चुका है। मास्क बनाने का कार्य अभी भी युद्ध स्तर पर चल रहा है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!