संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान की अन्तर्विभागीय समन्वय समिति की बैठक सम्पन्न

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । संचारी रोगों पर नियंत्रण पाने के लिए पिछले साल की तरह इस साल भी जिले में विशेष संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान चलाया जाएगा। आज कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित अन्तर्विभागीय समन्वय समिति की बैठक में जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने कहा कि “एक मार्च से शुरू होने वाले विशेष संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान को लेकर सभी विभाग माइक्रोप्लान तैयार कर लें। इस बार आशा कार्यकर्ता घर-घर जाकर जांच करेंगी कि किसी के घर में गंदा पानी ठहरने के कारण मच्छर तो नहीं पैदा हो रहे। यदि ऐसा है तो उन्हे इसके प्रति जागरूक करें। अभियान में आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता माइक्रोप्लान के तहत घर-घर जाकर दस्तक देंगी।”

बैठक को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी व मुख्य चिकित्साधिकारी ने कहा कि “ऐसी बीमारी, जो किसी माध्यम से एक बीमार इंसान के बदन से किसी तंदरूस्त इंसान के बदन तक पहुंचती है, वह संचारी बीमारी होती है। प्रदेश सरकार द्वारा संचारी रोग के रोकथाम के लिए एक मार्च से 31 मार्च तक संचारी रोग नियंत्रण अभियान एवं दस्तक अभियान को सभी सहयोगी विभागों से समन्वय स्थापित करके स्वास्थ्य विभाग कार्यक्रम को सफल बनाएँ।”

जिलाधिकारी ने मौके पर मौजूद स्वास्थ्य विभाग के साथ ही सहयोगी विभागों जैसे शिक्षा, पंचायत, पशुपालन, नगर निकाय, बाल विकास, दिव्यांगजन विकास विभाग के अधिकारियों को दायित्वबोध कराते हुए संचारी रोग नियंत्रण अभियान के तृतीय चरण को कामयाब बनाने की नसीहत दी।
इस मौके पर जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 एस0के0 उपाध्याय, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ0 पी0बी गौतम, जिला मलेरिया अधिकारी डी0एन0 श्रीवास्तव, जिले के प्रभारी चिकित्साधिकारीगण, बाल विकास परियोजना अधिकारीगण सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारीगण मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!