सोनिया व राहुल गांधी से मुलाकात के बाद बोले सोरेन- हमारा गठबंधन पूरी मजबूती के साथ पांच साल सरकार चलाएगा

झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने सोनिया गांधी के दस जनपथ स्थित आधिकारिक निवास पर मुलाकात की । हेमंत सोरेन प्रियंका गांधी और राहुल गांधी से भी मुलाकात करेंगे । गौरतलब है कि झारखंड विधानसभा चुनावों में मिली शानदार जीत के बाद अब हेमंत सोरेन 29 दिसंबर को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे । ऐसे में तीनों नेताओं से मिलकर उन्हें शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने का न्योता दिया ।

बुधवार शाम सोनिया गांधी और राहुल गांधी से मुलाकात के बाद हेमंत सोरेन ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हमने सोनिया गांधी और राहुल गांधी से मुलाकात कर उन्हें शपथ ग्रहण में आमंत्रित किया है । उन्होंने कहा कि राहुल गांधी शपथ ग्रहण समारोह में आएंगे । सोनिया जी से भी शपथग्रहण में आने का आग्रह किया है । उम्मीद है, दोनों नेता शपथ ग्रहण में मौजूद होंगे ।

मंत्रिमंडल के बंटवारे के फ़ॉर्म्युला को लेकर पूछे गए सवाल पर हेमंत सोरेन ने कहा कि अभी वो सब रहने दीजिए । सरकार बनेगी, सभी चीजें आपको पता चल जाएंगी । उन्होंने कहा, “हमारा गठबंधन पूरी मजबूती के साथ पांच साल सरकार चलाएगा। इसमें कोई संदेह नहीं है। जनता ने जिस आशा और आकांक्षा के साथ बहुमत दिया है, उसे हम लोग पूरा करेंगे ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को शपथ ग्रहण समारोह में बुलाए जाने के सवाल पर हेमंत सोरेन ने कहा, “चुनाव के वक्त प्रधानमंत्री और गृह मंत्री के तौर पर नहीं, बल्कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता के तौर पर देखा था ।अब वे देश के प्रधानमंत्री और गृहमंत्री हैं । हम गृहमंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी शपथ ग्रहण समारोह में आने के लिए न्योता देंगे ।

दरअसल, झारखंड विधानसभा चुनाव में जेएमएम-कांग्रेस-आरजेडी गठबंधन की जीत के बाद 29 दिसंबर को सोरेन मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं । बुधवार को राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने जेएमएम के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया है । एक दिन पहले सोरेन ने राजभवन में राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया और उन्हें 50 विधायकों के समर्थन का पत्र पेश किया ।

बतादें कि चुनाव में 81 सदस्यीय विधानसभा गठबंधन ने 47 सीटें मिली हैं । इसमें जेएमएम के खाते में 30, कांग्रेस को 16 और आरजेडी को एक सीट पर विजय प्राप्त हुई । वहीं, अकेले चुनाव लड़ी बीजेपी 25 सीटों पर सिमट गई, जबकि जेवीएम को 3 और आजसू के खाते में दो सीटें गईं। इनके अलावा सीपीआईएमएल और एनसीपी के खाते में एक-एक सीट गई ।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!