नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में यूपी से 6 लोगों की मौत

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद उत्तर प्रदेश के कई जिलों में जमकर बवाल हुआ । इस दौरान बिजनौर में गोली लगने से 2 युवक की मौत हो गई है, जबकि 8 पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं । वहीं मेरठ में एक पुलिस चौकी को फूंक दिया गया है ।

उत्तर प्रदेश में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हुए प्रदर्शन में अब तक 6 लोगों की मौत हो चुकी है जिसमें आज 5 लोग मारे गए । बिजनौर में 2 लोग मारे गए हैं ।।जबकि लखनऊ, कानपुर, संभल और फिरोजाबाद में 1-1 लोगों की मौत हो चुकी है ।

बिजनौर के नहटौर में प्रदर्शन के दौरान फायरिंग में चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए जिसमें इलाज के दौरान 2 की मौत हो गई है । पुलिस के भी 8 सिपाही इस झड़प में घायल हुए हैं ।
हालांकि पुलिस की सक्रियता के बावजूद बिजनौर के साथ ही फिरोजाबाद, गोरखपुर, मेरठ, गाजियाबाद, हापुड़, बहराइच, मुजफ्फरनगर, कानपुर, उन्नाव, भदोही में उन्मादी भीड़ ने उग्र विरोध प्रदर्शन किया ।

कानपुर में उपद्रवियों ने पुलिस पर पथराव किया । पुलिस ने भीड़ पर काबू पाने के लिए लाठी चार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े ।

इसी तरह कानपुर में बाबूपुरवा में हिंसक प्रदर्शन में 13 लोग घायल हो गए हैं । साथ ही पुलिस के 5 सिपाही और एक दरोगा भी घायल हुए हैं । एसएसपी अनंत देव तिवारी का कहना है कि शहर में अब स्थिति सामान्य है. पहले नमाजियों ने परेड चौराहे पर बवाल करने की कोशिश की थी और वहां तो लोग समझाने के बाद शांत हो गए, लेकिन बाबूपुरवा में प्रदर्शनकारी अचानक उग्र हो गए और पुलिस पर पथराव और फायरिंग करने लगे ।

पुलिस के अनुसार, इस प्रदर्शन में 13 लोग घायल हो गए । हिंसा के लिए 25 लोगों को पकड़ा भी गया है जबकि एक दरोगा समेत पांच सिपाही भी घायल हुए हैं ।

वहीं राष्ट्रीय राजधानी में भी हजारों लोगों ने रैलियां निकालीं तथा शाम होते होते यहां भी हिंसक प्रदर्शन शुरू हो गये जिसके बाद पुलिस को लाठी चार्ज करना पड़ा।

कई राज्यों में सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं जिसके बाद सरकार ने इस तरह का संकेत दिया है कि वह इस संबंध में सुझावों पर विचार करने को तैयार है। दिल्ली के दरियागंज इलाके में प्रदर्शनकारियों ने एक कार को आग के हवाले कर दिया तथा सुरक्षा बलों पर पथराव किया। पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए भीड़ पर पानी की बौछार की और लाठी चार्ज किया।

दिल्ली, महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों और कर्नाटक-केरल के सीमावर्ती इलाकों से छिटपुट हिंसा की खबरें हैं। उत्तर प्रदेश के कई शहरों, कर्नाटक के कुछ शहरों एवं राष्ट्रीय राजधानी के विभिन्न हिस्सों में मोबाइल इंटरनेट तथा एसएमएस सेवाओं पर रोक लगा दी गयी है। हालांकि दिल्ली में कुछ लोगों ने पुलिस को गुलाब का फूल भेंट कर शांति का संदेश देने का प्रयास किया।

संवेदनशील क्षेत्रों में अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किये गये हैं। कर्नाटक के मंगलुरू में गुरूवार को पुलिस गोलीबारी में दो लोगों की मौत हो गयी ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!