टाटा ग्रुप ने उत्तराखण्ड में आतिथ्य, ऊर्जा और इलेक्ट्रीक वाहन क्षेत्र में निवेश की इच्छा जताई

* टाटा ग्रुप ने उत्तराखण्ड में आतिथ्य, ऊर्जा और इलेक्ट्रीक वाहन क्षेत्र में निवेश की इच्छा जताई

* मुम्बई में टाटा सन्स के चैयरमैन सहित टाटा ग्रुप के वरिष्ठ अधिकारियों ने मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से भेंट की

* मुख्यमंत्री ने टाटा ग्रुप कोे राज्य के विकास में सहभागिता के लिए आमंत्रित किया

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने एन. चंद्रशेखरन चैयरमैन, टाटा सन्स और बनमाली अग्रवाल, अध्यक्ष, इंफ्रास्ट्रक्चर, डिफेंस एंड एयरोस्पेस-टाटा सन्स, से भेंट कर राज्य के विकास में सहभागिता के लिए आमंत्रित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि ईज आफ डूईंग बिजनेस के लिए राज्य सरकार ने बहुत से महत्वपूर्ण सुधार किए हैं। मुख्यमंत्री ने टाटा के प्रतिनिधिमण्डल को उत्तराखण्ड आकर विशेष तौर पर पर्यटन, ऊर्जा व विनिर्माण में निवेश की असीमित सम्भावनाओं का लाभ उठाने का आग्रह किया।

टाटा ग्रुप और उत्तराखण्ड सरकार के अधिकारियों ने बैठक में राज्य में निवेश की सम्भावनाओं पर विस्तार से चर्चा की। राज्य सरकार के अधिकारियों ने पर्यटन, ऊर्जा, इलेक्ट्रीक वाहन और सूचना प्रौद्योगिकी में निवेश के लिए प्रोजेक्ट प्रस्तुत किए।

राज्य के सभी जिलों में आतिथ्य क्षेत्र में टाटा निवेश करने का इच्छुक

व्यापक विचार विमर्श के बाद, टाटा ग्रुप ने उत्तराखण्ड के सभी जिलों में एएमए(होम स्टे), ताज (रिसोर्ट), जिंजर (बिजनेस होटल), जीवा (स्पा) आदि ब्राण्ड के माध्यम से आतिथ्य क्षेत्र में काम करने की रूचि जाहिर की। टाटा ग्रुप ने गोआ में फोर्ट अगुआडा और अंडमान निकोबार में हेवलाॅक की तर्ज पर पर्यटन के लिए टिहरी झील के विकास की इच्छा जताई। टीसीएस आईओएन, राज्य में स्किलिंग एंड टेस्टिंग सेंटर विकसित करेगी।

नवीकरणीय ऊर्जा व इलेक्ट्रीक व्हीकल पर विशेष फोकस

टाटा पावर ने माईक्रो ग्रिड सोल्युशन के माध्यम से विद्युत वितरण प्रणाली में सुधार में सहयोग के लिए प्रस्ताव दिया ताकि उत्तराखण्ड वर्ष 2023 तक नवीकरणीय ऊर्जा से 50 प्रतिशत ऊर्जा उत्पादन का लक्ष्य हासिल किया जा सके। टाटा पावर राज्य में सोलर पम्प विनिर्माण में सम्भावनाओं को भी देखेगी। भारत सरकार की फेम-2 योजना का उपयोग करते हुए उत्तराखण्ड में इलेक्ट्रोनिक व्हीकल सेक्टर के विकास पर भी गहन चर्चा की गई।

ड्रोन टेस्टिंग के एक्सीलेंस सेंटर में सहभागिता

टाटा एडवांस सिस्टम (टाटा ग्रुप की डिफेंस सेक्टर कम्पनी) राज्य में ड्रोन टेस्टिंग का एक्सीलेंस सेंटर विकसित करने में सहभागिता की सम्भावना पर काम करेगी। बैठक में टाटा ग्रुप की ओर से बनमाली अग्रवाल (अध्यक्ष, इंफ्रास्ट्रक्चर, डिफेंस एंड एयरोस्पेस-टाटा सन्स), वी.रामास्वामी (ग्लोबल हेड-टीसीएस ईओएन), पुनित चटवाल (सीईओ, इंडियन होटल्स), राकेश सिंह (प्रमुख, रिन्युएबल्स बीडी-टाटा पावर), गिरीश वाघ (अध्यक्ष, वाणिज्यिक वाहन बीयू- टाटा मोटर्स) जबकि उत्तराखण्ड सरकार की ओर से मनीषा पंवार, प्रमुख सचिव, उद्योग, दिलीप जावलकर, सचिव, पर्यटन, राधिका झा, सचिव, ऊर्जा, अमित सिन्हा, निदेशक आईटीडीए उपस्थित थे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!