असमय हुई बारिश से फसलों को बचाने की कवायद करते किसान

राहुल शुक्ला (ब्यूरो)

शाहजहांपुर । लगातार 24 घंटे हुई बारिश की वजह से किसानों की आलू, मटर, टमाटर ,गेहूं, मसूर, सरसों आदि की फसलों को भारी क्षति पहुंची है ।
जलभराव से फसलों को होने वाली क्षति से बचाने के लिए किसानों ने कवायद शुरू कर दी है किसान फसलों को बचाने के लिए खेतों में जगह-जगह गड्ढे लगवा रहे हैं ब पंपिंग सेट से पानी को बाहर खिंचवाने का प्रयास कर रहे हैं ताकि फसलें जीवित बच सकें| जहां एक दिन दो रात लगातार हुई लगातार बारिश ने वायु प्रदूषण की बढ़ती दरों में गिरावट लाकर जीवो को राहत की सांस लेने में मदद पहुंचाई है ।
वही अन्न उगाने वाले अन्नदाताओं की रवि की फसलों को भारी नुकसान भी पहुंचाया है ।

क्षेत्रीय किसानों का मानना है कि आलू व टमाटर की फसल में लगभग 50-80 प्रतिशत नुकसान पहुंचा है तो सैकड़ों एकड़ तत्काल बोया हुआ गेहूं का जमाव संभव नहीं है और सैकड़ों एकड़ गेहूं की बुवाई भी नहीं हो पाएगी मसूर की कई एकड़ फसल पूर्णतया नष्ट हो गई है ।
वहीं किसानों का यह भी कहना है कि पराली जलाने पर प्रतिबंध के चलते फसलों की बुवाई लेट हो गई जिससे बारिश का गेहूं की फसल पर गहरा प्रभाव पड़ा है इस बार क्षेत्र से गेहूं की उपज में भारी गिरावट रहेगी
किसानों ने फसल बीमा कंपनियों से सर्वे कर मुआवजा देने की मांग भी उठाई है ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!