महिला सुरक्षा के मुद्दे पर दिल्ली में निकला कैंडल मार्च, पुलिस ने किया वाटर कैनन का इस्तेमाल

महिला सुरक्षा के मुद्दे पर दिल्ली में इंडिया गेट पर कैंडल मार्च निकाला जा रहा है । कैंडल मार्च में शामिल महिला और पुरुष रेप मामले में जल्द से जल्द कार्रवाई की मांग कर रहे हैं और दोषियों की पहचान कर फांसी की सजा देने की मांग कर रहे हैं ।

प्रदर्शनकारियों ने राजघाट से इंडिया गेट तक कैंडल मार्च निकाला तो रास्ते में पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की। पुलिस ने उन्हें रोकने के लिए बैरिकेड लगाए मगर प्रदर्शन कर रहे पुरुष और महिलाओं ने बैरिकेड पर चढ़ते हुए उसे गिराने की कोशिश की। इतना ही नहीं, मार्च निकाल रहे लोगों पर पुलिस ने वाटर कैनन का भी इस्तेमाल किया।

बतादें कि उत्तर प्रदेश के उन्नाव की रेप पीड़िता की शुक्रवार रात दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई। उन्नाव गैंगरेप पीड़िता को बीते 5 दिसंबर को एयरलिफ्ट के जरिए गंभीर हालत में लखनऊ से दिल्ली के सफदरजंग हॉस्पिटल लाया गया था। अस्पताल के बर्न एवं प्लास्टिक सर्जरी विभाग के प्रमुख डॉ. शलभ कुमार ने बताया, ”हमारे बेहतर प्रयासों के बावजूद उसे बचाया नहीं जा सका। गौरतलब है कि उन्नाव जिले के बिहार थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली बलात्कार पीड़िता को गुरुवार तड़के उसके बलात्कार के आरोपियों सहित पांच लोगों ने आग के हवाले कर दिया था। करीब 90 प्रतिशत तक झुलस चुकी युवती को एयर एम्बुलेंस के जरिए दिल्ली लाया गया था और वहां अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उसने शुक्रवार देर रात दम तोड़ दिया था। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने उसे हवाई अड्डे से सफदरजंग अस्पताल तक ले जाने के लिए ग्रीन कॉरीडोर बनाया था। उसे लखनऊ से दिल्ली एयरलिफ्ट किया गया था।

उन्नाव रेप पीड़िता की मौत पर गुस्से का माहौल है। प्रियंका गांधी रेप पीड़िता के परिवार से मिली हैं और जमकर योगी सरकार पर हमला बोला । उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार को सुरक्षा क्यों नहीं दी गयी ।

उसके बाद यूपी सरकार के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या, कमल रानी वरुण और उन्नाव से सांसद साक्षी महाराज पीड़िता के घर पहुंचे । बीजेपी नेताओं के पीड़िता के घर पहुंचने पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मंत्री जी वापस जाओ के नारे लगाए, जिसके बाद पुलिस ने जोर जबरदस्ती कर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को खदेड़ा । कुछ कार्यकर्ताओं की पुलिस द्वारा पिटाई करने की खबर है।

उधर दोपहर राज्यपाल से मुलाकात के बाद मायावती ने कहा कि यूपी की कानून व्यवस्था की गंभीर स्थिति को देखते हुए राज्यपाल से मिलने के बारे में सोचा । राज्यपाल भी महिला हैं।मैंने कहा कि आप की जिम्मेदारी बनती है कि आप संवैधानिक पद पर हैं और आप अपनी जिम्मेदारी निष्ठा से निभाएं । मुख्यमंत्री और पुलिस विभाग से बात कर के सुनिश्चित करें कि कानून व्यवस्था ठीक हो । वे लॉ एंड ऑर्डर को नहीं संभाल पा रहे हैं तो ऐसे में आप अपनी संवैधानिक जिम्मेदारी को निभाएं तो ये ज्यादा बेहतर होगा ।

इसके पहले आज सुबह से सपा सुप्रीमों अखिलेश यादव ने विधान सभा के गेट के सामने धरने पर बैठ गए । जिसके बाद पूरे राजनीतिक गलियारे में हड़कम्प मच गया । अखिलेश ने मुख्यमंत्री व डीजीपी का इस्तीफा मांगा ।


उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मौत पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है, उन्नाव की मासूम बेटी की दुखद और हृदय विदारक मौत, मानवता को शर्मसार करने वाली घटना से आक्रोशित और स्तब्ध हूं। एक और बेटी ने न्याय और सुरक्षा के आस में दम तोड़ दिया । दुःख की इस घड़ी में पीड़ित परिवार के प्रति मै आपनी संवेदना व्यक्त करता हूं ।

राज्य मंत्री कमल रानी वरुण ने कहा कि उन्नाव रेप पीड़िता के परिवार को वित्तीय मदद के तौर पर 25 लाख रुपये का चेक जिला मजिस्ट्रेट द्वारा दिया जाएगा। परिवार की मांग के मुताबिक, प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत एक घर भी मुहैया कराया जाएगा।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!