सरकारी स्कूल का हाल : भगवान भरोसे चल रहा कोंगा में पठन-पाठन

एस0के0 (संवाददाता)

– छात्रों ने प्रभारी प्रधानाध्यापक के ऊपर लगातार 15 दिन से अनुपस्थित का लगाया आरोप

– पूर्व की घटना से भी सीख नहीं ले रहे हैं शिक्षक

– शिकायत के बाद भी आला अधिकारी कर रहे हैं नजरअंदाज

– सलईबंधवा के घटना के बाद भी अधिकारी सुस्त

सागोबांध । विकास खण्ड बभनी में अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों में पदस्थापन होने के कारण कई विद्यालय शिक्षकविहीन हैं। ग्राम पंचायत कोंगा के पूर्व माध्यमिक विद्यालय इन दोनों भगवान भरोसे चल रहा है। इस विद्यालय में 8वीं तक चल रहे विद्यालय में कुल 103छात्र नामांकित है। ऐसे में स्कूल में अध्ययन कर रहे छात्र- छात्राओं ने बड़ी गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि हमारे प्रधानाध्यापक संतोष सिंह लगातार पंद्रह दिनों से विद्यालय में नहीं आ रहे हैं। हम लोग आते हैं और पढ़कर चले जाते है।

बताते चलें कि विगत 23 सितम्बर को इसी विद्यालय के एक छात्र हुकुम सिंह की बंधी में डूबने से मौत हो गई थी। तब से ही गांव के अभिभावक से लेकर प्रधान की नजरे हमेशा विद्यालय में टीकी रहती है। ग्राम प्रधान कृष्णानंद कई बार आलाधिकारियों से इसकी शिकायत कर चुके हैं लेकिन अधिकारियों के कान पर जूँ तक नहीं रेंगती।

इस संबंध में खंड शिक्षा अधिकारी आलोक कुमार यादव ने बताया कि “यदि इस तरह की कोई अध्यापक विद्यालय से अनुपस्थित रहे तो जांच कर कार्रवाई की जाएगी।”

इस दौरान विद्यालय के विकास कुमार, संगीता कुमारी, शिवशंकर, विरेन्द्र कुमार, सीता कुमारी, सोनिया, हीरमनिया, सूर्य प्रताप, पप्पू कुमार, सुनील कुमार सहित दर्जनों छात्रों ने जिलाधिकारी का ध्यान आकर्षित कराते हुए तत्काल कार्रवाई करते हुए शिक्षा बहाल करने की मांग की है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!