पंचायतों में डोंगल सिस्टम लागू किए जाने से गांवों का विकास पूरी तरह से बाधित

कुलदीप यादव (संवाददाता)

कमालपुर। चन्दौली प्रदेश सरकार द्वारा ग्राम पंचायतों में डोंगल सिस्टम लागू किए जाने से गांवों का विकास पूरी तरह से बाधित हो गया है। ग्राम पंचायतों में पी एफ एम एस पब्लिक फाइनेंस मैनेजमेंट सिस्टम व्यवस्था लागू की गई है जिसमें प्रधान व सेक्रेट्री के डिजीटल सिग्नेचर से ऑन लाइन भुगतान होगा। परन्तु सिस्टम सही ढंग से काम न करने के वजह से धानापुर ब्लॉक की अधिकतम गांवों का भुगतान नहीं हो पा रहा है। वहीं कुछ गांवों का तो डोंगल ही नहीं हो पाया है। जबकि ग्राम पंचायतें कुछ न कुछ काम करा चुकी हैं। जिसके पेमेंट के लिए मैटेरियल्स से लेकर मजदूर आदि प्रधानों के पास दौड़ रहे हैं। मार्च के बाद से विकास कार्य इन गांवों में पूरी तरह से बाधित है। विकास खंड के इनायतपुर, विशुनपुर कलां,शहीद गांव, जीयनपुर, आवाजापुर, वर्दीसांडा, सहित क़रीब एक दर्जन गांवों में डोंगल सिस्टम नहीं हो पाया है जिससे विकास कार्य पूरी तरह से बाधित है। कई ऐसी ग्राम पंचायते हैं जिसमें डोंगल सिस्टम पूरा होने के बावजूद मैपिंग कोड व योजनाओं का ब्योरा प्रदर्शित न होने के कारण भी खाता संचालन नहीं हो पा रहा है। यही नहीं जिन गांवों में डिजीटल सिग्नेचर हो गए हैं वहां भी फण्ड ट्रांसफ़र न हो कर फेल हो जा रहे हैं। विदित हो कि ग्राम पंचायतों के कार्यकाल भी लगभग एक साल रह गए हैं ऐसे में इस नए सिस्टम के लागू होने से व सिस्टम के कार्य सही ढंग से न करने से वर्तमान ग्राम प्रधानों को काफ़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। एक तो कई कई काम को करा लिए हैं उपर से पेमेंट न होने के कारण प्रधानों को तगादा सुनना पड़ रहा है।

ए डी ओ पंचायत बैजनाथ राम ने बताया कि जिन गांवों के डोंगल नहीं हो पाए हैं उन्हें शीघ्र ही तेज़ी के साथ पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है। जल्द ही इस समस्या से निजात मिल जाएगी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!