स्नान पर्व कार्तिक पूर्णिमा सकुशल सम्पन्न कराने के लिए डी आई जी ने दिए निर्देश

राजीव दुबे (संवाददाता)

मीरजापुर । मंडल मुख्यालय सहित तीनो जनपदों में अयोध्या फैसले से संभावित अप्रिय घटनाएं न होने तथा बारावफात के राजी-खुशी सम्पन्न हो जाने से हर्षित डी आई जी पीयूष कुमार श्रीवास्तव ने इसके लिए मंडल के सम्भ्रांत लोगों को बधाई देते दी तथा आश्वस्त किया कि कार्तिक पूर्णिमा का स्नान पर्व एवं गुरुनानक जयंती पर्व भी सकुशल सम्पन्न होगा ।
प्रदेश में डी आई जी के वीडियो कांफ्रेंसिंग के बाद तीनों जनपदों के पुलिस अधीक्षकों को शासन के निर्देशों से अवगत कराते हुए डीआईजी श्रीवास्तव ने कहा कि गंगा घाटों तथा अन्य नदियों पर स्नान निर्विघ्न हो, इसके लिए पर्याप्त पुलिस जिसमें महिला पुलिस भी शामिल हैं, की ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए गए हैं ।

वस्त्र बदलने की व्यवस्था जरूरी

डीआईजी ने पीयुष श्रीवास्तव ने कहा कि सभी स्नान वाले घाटों पर महिलाओं के वस्त्र बदलने के लिए चेंजिग रूम बनाने की व्यवस्था रहेगी । उन्होंने कहा कि प्रातःकाल 4 बजे से स्नान होने के कारण तीनों जनपदों कर जिलाधिकारी से मिलकर विद्युत कटौती सुबह न किए जाने का अनुरोध किया गया है ।
डीआईजी पीयूष श्रीवास्तव ने कहा कि सारी व्यवस्था पर वे कड़ी नजर रखेंगे ।

विंध्याचल में विशेष व्यवस्था का अनुरोध

कार्तिक पूर्णिमा पर मां विन्ध्यवासिनी धाम में भारी भीड़ की संभावना देखते हुए डीआईजी से अनुरोध किया गया कि वाहनों के मंदिर क्षेत्र के पहले ही खड़ा कराया जाए ताकि जाम की स्थिति न उत्पन्न होने पाएं। डीआईजी ने कहा कि वे इस पर जनपद पुलिस को निर्देश देंगे कि ऐसी व्यवस्था हो, ताकि दर्शन में श्रद्धालुओं को दिक्कत न हो ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!