पहली बार परिषदीय विद्यालयों के छात्रों ने दिया ओएमआर शीट पर परीक्षा

पी0 के0 विश्वकर्मा (संवाददाता)

■ शिक्षण व्यवस्था सुधारने की पहल शुरू, लर्निंग आउटकम की परीक्षा सम्पन्न

कोन । परिषदीय विद्यालयों में शिक्षण व्यवस्था सुधारने व गुणात्मक शिक्षा बढाने को लेकर विभाग तरह-तरह के प्रयोग में लगी है। जिसके क्रम में शासन के निर्देश पर खण्ड शिक्षाधिकारी चोपन मुकेश कुमार के नेतृत्व मे शुक्रवार को परिषदीय विद्यालयों में कक्षा, 5 से 8 तक अध्ययनरत सभी छात्र-छात्राओं का लर्निंग आउटकम की परीक्षा ली गयी । इस बार प्रश्नपत्र का उत्तर ओएमआर सीट पर लिया गया।

बतादे कि इस परीक्षा को नकलविहीन व पारदर्शिता कराने को लेकर विभाग हप्ते भर से तैयारी किया था।जिसके लिए प्रत्येक विद्यालयों पर पर्वेक्षक की नियुक्ति हुयी थी जो सीलबंद पेपर व उत्तर पत्रक लेकर अपने-अपने आवंटित विद्यालयों पर उपस्थित होकर परीक्षा लिया गया । तत्पश्चात उत्तर पत्रक को कक्ष निरीक्षकों की उपस्थिति में पुनः सील बंद कर सभी पर्वेक्षक उत्तर पत्रक को समयानुसार बीआरसी चोपन में जमा कराया गया । जिसकी निगरानी हेतु टास्क फोर्स भी धुमते नजर आये ।

इस प्रकार से परिषदीय विद्यालयों में पहली बार परीक्षा कराने को लेकर जहां बच्चों में भी काफी उत्साह देखा गया वही इसकी अभिभावकों में काफी चर्चाएं भी है।

अभिभावकों का मानना है कि अभी से बच्चे इस पद्धति से परीक्षा देने की सीख मिलेगी तो आगे आने वाले कम्पटीशन की परीक्षा में काफी सहुलियत रहेगा।जो शुक्रवार को 10.30 से 12.30 तक दो घंटे की परीक्षा सम्पन्न हुआ।

इस परीक्षा में न्याय पंचायत प्रभारी कोन मन्नीलाल शर्मा, प्रभारी रामगढ़ प्रदीप कुमार समेत समस्त अध्यापक सहयोग मे लगे रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!