छठ घाट पर जाने के लिए पाण्डू नदी पर बना अस्थायी पुल,तैयारी पूरी

पी0के0 विश्वकर्मा (संवाददाता)

* बाजार मे बढा रौनक, फल की दुकानों से पटी बाजार

कोन । छठ व्रत के महापर्व के दुसरे दिन अर्थात खरना के दिन से ही पूरे बाजार मे विभिन्न फलों से पूरी बाजार पटी है वही व्रती महिलाओं समेत घर परिवार के लोग बाजार से कई प्रकारों के फल समेत ईख की खरीदारी करने की होड लगी है।बतादे कि छठ व्रत की महिमा को देखते हुये छठ के महापर्व को मनाने के लिए एक सप्ताह से तैयारी की जाती है ।जिसमे पूरे घरों की साफ सफाई के साथ साथ पवित्रता पर विशेष ध्यान दिया जाता है ।उधर गांव मे छठपूजा कमेटी के लोगों द्वारा पूरी लगन से छठघाट,व सडक की सफाई मे लगी रही जो शुक्रवार को पूरी तैयारियां पूर्ण होने की बात बतायी गयी।

वही छठघाट पर जाने के लिए पाण्डू नदी मे कमेटी व ग्राम प्रधान कोन व खेतकटवा के मदद से घाट पर व्रती महिलाओं व बच्चों को आने जाने हेतु नदी पर एक अस्थायी पुल बांस व बल्ली की सहायता से हर वर्ष की भांति बनाया गया है।इसके अलावा जर्जर सडक की भी सफाई का काम चल रहा है।
कोन क्षेत्रवासियों ने बताया कि उक्त घाट तक जाने के लिए मेन सडक से कोन बस्ती घाट तक जाने वाली सडक गढ्ढायुक्त हो गयी है जिसकी मरम्मत/ रेनूवल अभी हाल ही मे तीन माह पूर्व ही हुआ था परन्तु बनते ही उखड गयी।जिससे होकर व्रती महिलाओं को जाने मे काफी कठिनाइयों का सामना करना पड रहा है आलम यह है कि कुछ व्रती महिलाएं अपनी मान्यता के अनुसार अपने घर से घाट तक सडक पर लेटते हुये भी जाती है।जानकारी के अनुसार शुक्रवार को व्रती महिलाएं व पुरुष सांय छठघाट पर पहुंच डुबते हुये सूर्य भगवान को अर्घ्य देने के पश्चात घर वापस आकर मीठा भोजन बनाकर भोजन करेगीं तत्पश्चात लगातार 36 घंटे निराजल व्रत के दौरान शनिवार को सांय पुनः छठघाट पर अर्घ्य देते हुये रातभर घाट पर ही रहने की परम्परा है व रविवार को सुबह उगते हुये सुर्य भगवान को अर्घ्य देकर घर वापस आकर पारन करने की परम्परा है।इस प्रकार लगातार चार दिनों तक चलने वाली छठ व्रत की तैयारियां पूरी हो गयी है।जिसके सुरक्षा व्यवस्था हेतू प्रभारी निरीक्षक राजेश सिंह व सीओ ओबरा भाष्कर वर्मा ने कोन बाजार मे जनचौपाल लगाकर जनता से शांति व सहयोग की अपील करते हुये फोर्स की ड्यूटी लगाने की बात बतायी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!