बभनी में हाथियों का उत्पात जारी, हाथियों के हमले से दो युवक घायल

ख़्वाजा खान (संवाददाता)

बभनी । वन रेंज बभनी के छ0ग0 से सटे सरहदी गांवों में हफ़्तों से हाथियों ने आतंक मचा रखा है।अबतक हाथियों ने दर्जनों ग्रामीणों का घर गिराने के साथ ही काफ़ी फसलों का नुकसान कर चुकी हैं ।हाथियों के आतंक से कई गांव के ग्रामीण रातों को अपना घर छोड़ जंगल से दूर बस्ती में किसी अपने शुभचिन्तक के घर रात बिताने को मजबूर हैं। जबकि वन विभाग के तीनों रेंज के अधिकारी-कर्मचारी दिन-रात हाथियों को भगाने के लिए जंगलों में ख़ाक छान रहे हैं। इसके बावजूद हाथी घूम फिर कर शाम होते ही गांव का रुख कर ग्रामीणों का जीना दुश्वार कर दिया है।

इसी कड़ी में अबतक तो हाथियों नें सिर्फ़ घर अनाज फसलों को ही नुकसान पहुंचाया था । लेकिन बीती रात को हाथियों नें जंगल में मचान पर सो रहे दो युवकों को अपना निशाना बनाया । जिससे दोनों युवक घायल हो गए । गनीमत यह रही कि हाथियों ने युवकों को घायल ही करके छोड़ दिया वरना बड़ी घटना भी घट सकती थी, युवकों की जान भी जा सकती थी।

बतादें कि पशु पालक अपने जानवरों को लेकर जंगल में चले जाते हैं और वहीं जंगल ही में रह कर जानवरों को चराते हैं और जानवरों के बांधने के साथ ही लकड़ी के मचान पर अपने सोने के लिए बनाते हैं ।ताकि जंगली जानवरों से सुरक्षित रह सके। बताता जा रहा है कि हाथियों ने लकड़ी के बने मचान को गिरा दिया और नीचे गिरते ही युवकों को उठा कर पटक दिया । गनीमत यह रही कि इसके बाद हाथी युवकों को छोड़ कर चली गई । वरना कुछ भी हो सकता था। फ़िलहाल युवकों का इलाज़ बभनी हास्पिटल में चल रहा है । युवक खतरे से बाहर बताये जा रहे हैं। घायल युवक शोभा व चन्द्रिका पुत्रगण गुलाब निवासी सेमरिया, बचरा के बताए जा रहे हैं।

वन क्षेत्राधिकारी अवधनरायन मिश्रा ने बताया कि हाथियों को आज अपनें क्षेत्र से खदेड़ दिया गया है।हाथियों को अपनें सिमा से बाहर छ0ग0के जंगल में 2कि0मी0 अन्दर तक भगा दिया गया है ।अब ऐ उम्मीद की जा रही है कि हाथी अब वापस नहीं आएंगे ।मालिक करे की हाथी अब वापस न आएं ताकि ग्रामीणों को राहत मिल सके।

वन विभाग की टीम में वन क्षेत्राधिकारी अवधनरायन मिश्रा, वनक्षेत्राधिकारी म्योरपुर शहजादा इस्माइल, वनक्षेत्राधिकारी जरहा दिनेश कुमार, वन दरोगा, थेगुराम, अनिल कुमार, वन रक्षक सुरेंद्र कुमार यादव, रामगोपाल दुबे व काफ़ी संख्या में ग्रामीण मौज़ूद थे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!