जेजेपी का बीजेपी को समर्थन दिए जाने के बाद नाराज पूर्व जवान तेज बहादुर यादव ने छोड़ी जेजेपी

हरियाणा विधानसभा चुनाव के त्रिशंकु परिणाम के बाद सियासी सरगर्मियों के बीच सत्ताधारी बीजेपी) और जेजेपी ने गठबंधन कर सरकार बनाने का ऐलान कर दिया है । विधानसभा चुनाव से ठीक पहले जेजेपी में शामिल होकर करनाल विधानसभा सीट से मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले बीएसएफ के पूर्व जवान तेज बहादुर यादव ने वीडियो जारी कर तीखा हमला बोला है ।

तेज बहादुर ने इसे हरियाणा की जनता के साथ गद्दारी बताते हुए कहा है कि आपको विपक्ष में बैठना चाहिए था । जब बीजेपी निर्दलीय विधायकों के साथ सरकार बना रही थी, तब आप खुद गए और गठबंधन किय । उन्होंने कहा कि यह प्रदेश की जनता के साथ धोखा है। गठबंधन गलत है ।

बीएसएफ के बर्खास्त जवान ने कहा कि जो बीजेपी है, वही जेजेपी है । जेजेपी, बीजेपी की बेटी है । उन्होंने कहा कि यह अब जनता के सामने आ चुका है। तेज बहादुर ने कहा कि इसका मुझे पहले से ही अंदेशा था ।उन्होंने कहा कि जब मैं चार दिन झांसी जेल में बंद रहा, तब पार्टी की ओर से कोई बयान तक नहीं आया ।

तेज बहादुर ने कहा कि जेजेपी और बीजेपी के साथ आने के अंदेशे के कारण ही करनाल सीट पर अपना चुनाव प्रचार भी नहीं किया । गौरतलब है कि तेज बहादुर करनाल सीट से जेजेपी के उम्मीदवार थे । करनाल में तेज बहादुर को मुख्यमंत्री खट्टर से मात मिली ।

आपको बतादें कि बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव ने आम चुनाव में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ वाराणसी संसदीय सीट से नामांकन दाखिल किया था । समाजवादी पार्टी ने उन्हें अपना उम्मीदवार बनाया था। हालांकि चुनाव अधिकारी ने उनका नामांकन खारिज कर दिया था, जिसके खिलाफ वह कोर्ट भी गए थे ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!