पारा शिक्षक की मृत्यु से शोक की लहर

आशुतोष (संवाददाता)

गढ़वा। बिशुनपुरा प्रखंड के उ0 म0 स्कूल0 सारो के कार्यरत पारा शिक्षक सह बी एल ओ प्रेम नारायण सिंह उम्र 45 वर्ष की मृत्यु शनिवार की हो गई।जानकारी के अनुसार मृतक के परिजनों ने बताया कि प्रेम नारायण सिंह एक माह पूर्ब से कैंसर की विमारी से ग्रसित थे, इनकी इलाज के किए राँची, वाराणसी, पी जी आई लखनऊ दिखया गया था, लखनऊ के चिकित्सकों ने इन्हें समुचित ईलाज के लिए भिलौर रेफर कर दिया था, लेकिन समुचित इलाज कराने के लिए परिजनों के पास उतना पैसा नही था, जीस कारण भिलौर ईलाज नही करा सके, परिजनों ने बताया कि सरकार द्वारा पारा शिक्षकों को समय समय पर मानदेय नहीं दे रही है, जिससे पारा शिक्षकों की विमारी होने पर सही समय पर समुचित ईलाज नहीं करा पा रहे हैं, जिससे उनकी मृत्यु हो जा रही है, परिजनों ने बताया कि मृतक के 4 पुत्री एवं 1 पुत्र के साथ भरा पूरा परिवार को वे दुनिया से चल बसे, मृतक के दाह संस्कार केरवा नाला स्थित बाकी नदी के तट पर किया गया।
वही प्रेम नारायण सिंह के मृत्यु पर मृतक के घर जाकर शिक्षक अनिल गुप्ता, प्रवीण पांडेय, रविन्द्र सिंह, जितेंद्र सिंह, राजकुमार राम, भूपेंद्र बैठा, राम स्वरूप यादव, रमेश कुमार सहित विभिन्न राजनीतिक दल के लोगो ने उनके परिजनों ढांढस बढ़ाया, साथ ही साथ उनकी आत्मा की शांति के लिए एक मिनट की मौन रखी गयी।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!