महामाया पॉलिटेक्निक कॉलेज का कमिश्नर ने किया निरीक्षण

अखिलेश कुमार (संवाददाता)

* हॉस्टल के दीवारों के टूटे प्लास्टर को देखकर जताई नाराजगी
* कॉलेज मार्ग को देखकर भड़के

धानापुर। कमिश्नर वाराणसी दीपक अग्रवाल व जिलाधिकारी चन्दौली नवनीत सिंह ने मंगलवार को सिहावल गांव स्थित महामाया पालीटेक्निक कालेज का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान ब्वायज व गर्ल्स हास्टल सहित कालेज की बिल्ड़िंग व मेन गेट तथा सड़क का निरीक्षण किया। इस दौरान ब्वायज व गर्ल्स हास्टल की दिवारों में लगे नोना व सिलन को देख नाराजगी जताई तथा परियोजना प्रबंधक को दूर करनें का निर्देश दिया। हास्टल के गंदे व अधूरे बने शौचालय को देख कड़ी फटकार लगाई। परियोजना प्रबंधक एके सिंह व सहायक अभियंता एकांक तंवर को कमिश्नर नें हिदायत दिया कि जांच कराकर स्टिमेट बनाऐ और अधूरे कार्यों को अविलम्ब पूरा कराएं। वहीं हास्टल के छात्र/छात्राओं से मिलकर जानकारी लिया। जहां छात्र/छात्राओं की सुविधा को देखते हुए सुबह में ब्रेक फास्ट तथा दोपहर व रात्रि में भोजन देनें का निर्देश दिया। हास्टल की सड़कों को मानक के अनुरूप बनानें तथा ओपेन मुख्य गेट के ऊपर छज्जा बनानें का भी निर्देश दिया। ताकि कालेज का गेट सुरक्षित हो जाए।

गौरतलब है कि महामाया पालीटेक्निक कालेज बीते वर्ष 2018 में ही 24 जूलाई को निर्माण इकाई के द्वारा कालेज को हस्तानांतरित किया गया। जो अधूरी निर्माण होनें पर कालेज प्रशाशन द्वारा आपत्ति जताई गयी। लेकिन निर्माण इकाई द्वारा भरोसा दिलानें के बाद कालेज प्रशासन नें स्वीकार किया। जहां पूरा साल बीतनें के बाद भी अधूरे निर्माण का कार्य पूर्ण नही हो पाऐ। पालीटेक्निक कालेज के प्रधानाचार्य नें बताया कि अब तक निर्माण के लिए 1915.6 लाख रूपये मिल चूके हैं।

इस दौरान मुख्य रूप से सीडीओ अभय श्रीवास्तव, डीडीओ पदम कांत शुक्ला, डीपीआरओ उमाशंकर मिश्रा, एसडीएम कुमार हर्ष, सीएमओ आरके मिश्र, बीएसए भोलेंद्र प्रताप सिंह, खण्ड विकास अधिकारी सुशील कुमार मिश्रा, ग्राम प्रधान राजू सिंह प्रधान लक्ष्मण यादव सहित तमाम ग्रामीण मौजूद रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!