क्षेत्रीय विस्थापित बेरोजगारों की चयन को लेकर 20 अक्टूबर को सोनांचल संघर्ष वाहिनी करेगी आंदोलन।

जय प्रकाश सिंह(संवाददाता)

खड़िया । उर्जान्चल आज सफारी होटल में सोनांचल संघर्स वाहिनी के सयोजक/संस्थापक एडवोकेट रोशन लाल यादव ने खड़िया परियोजना में कार्य कर रही आउट सोर्सिंग कंपनी बी पी आर में 80% क्षेत्रीय विस्थापित बेरोजगारों की चयन को लेकर आगामी 20 अक्टूबर को सोनांचल संघर्स वाहिनी ने जोरदार आंदोलन का ऐलान किया। और यह भी कहा कि पूर्व में एन आई टी का समझौता है कि कोई भी आउट सोर्सिंग कंपनी नार्दर्न कोल फील्ड लिमिटेड में कार्य करेगी तो उसे 80% स्थानीय विस्थापित बेरोजगारों को समायोजित करना होगा जिसका अनुपालन एन सी एल में कार्य कर रही आउट सोर्सिंग कंपनी नही कर रही है तथा क्षेत्रीय व विस्थापित बेरोजगारों की घोर अनदेखी कर दूसरे प्रान्त के लोगो का चयन किया जा रहा है।यह यहाँ के विस्थापितो के साथ अन्याय है जिसे किसी भी सूरत में बर्दाश नही किया जाएगा यह भी कहा कि जनप्रतिनिधि कथित कोटा के नाम पर बड़े पैमाने पर क्षेत्रीय स्थानीय बेरोजगारों का दोहन कर रहे है। कथित जनप्रतिनिधि कोटा पूर्णतः बंद होना चाहिए जिससे बेरोजगारों का दोहन रूक सके
आगामी 20 अक्टूबर को आंदोलन पी डब्लू डी मोड़ शक्तिनगर से आंदोलनकारियों का जूलूस सीधे खड़िया जी एम गेट हाउस पहुचेगा और जोरदार प्रदर्शन कर मांग पत्र सक्षम अधिकारी को सौंप कर अविलम्ब मांगो को पूरा करने की अपील की जाएगी अगर एक सप्ताह के अंदर विस्थापित बेरोजगारों का चयन 80% की वरीयता नही दी जाएगी तो अनिश्चित कालीन भूखहड़ताल करने के लिए बाध्य होंगे। रोशन लाल ने कहा कि इसके पहले भी हमने यहाँ के विस्थापितों और यहाँ पर कई वर्षों से रहने वाले लोग जो कि यहाँ पे प्रदूषण झेल रहे है उनके लिए आऊट सोशिंग कम्पनी से लड़ाई लड़ी है।
किन्तु इस बार भी पिछले कि बाहर के जनप्रतिनिधियों द्वारा आकर पहले से कम्पनियों में अपने लोगों का नाम और आवेदन पत्र दिया जा चुका है जो कि बहुत ही गलत है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!