Wednesday, October 23, 2019 - 01:44 PM
फ़्लैशराष्ट्रीय न्यूज़

प्रधानमंत्री मोदी ने तीर चला कर बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक रावण के पुतले का दहन किया

14

विजयदशमी का त्योहार देशभर में धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारका के सेक्टर 10 की रामलीला में शामिल हुए । प्रधानमंत्री आज यहीं श्रीराम पूजन किया । प्रधानमंत्री ने परंपरा के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी ने तीर चला कर बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक रावण के पुतले का दहन किया । प्रधानमंत्री मोदी के साथ दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी और सांसद प्रवेश वर्मा मौजूद रहे। कार्यक्रम में आए करीब एक लाख लोगों ने जय श्रीराम और मोदी मोदी के नारे नारे भी लगाए ।

पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत जय श्रीराम से की ।उन्होंने कहा कि शायद ही 365 दिन में कोई एक दिन हो जहां भारत में कोई उत्सव ना मनाया जाता हो । उत्सव हमें जोड़ते हैं और उमंग भरते हैं । ये हमारे रगों में धड़कता है ।

पीएम मोदी ने कहा कि देश मे उत्सव ही संस्कार, शिक्षा और सामूहिक जीवन का प्रशिक्षण देते हैं । कला, साधना ने उत्सवों को जीवंत किया तभी हमारे यहां रोबोट नहीं मानव पैदा होते हैं। मोदी ने कहा कि शक्ति की साधना, उपासना और आराधना का पर्व नवरात्रि है । नवरात्रि आंतरिक शक्ति को संचित करने और कमज़ोरियों को दूर करने की साधना है । हर मां बेटी का सम्मान, गर्व और गरिमा को बनाए रखना हर नागरिक की ज़िम्मेदारी है ।

उन्होंने कहा कि हम चुनौती देने वाले भी और समयानुसार खुद को बदलने वाले भी । हम खुद ही बुराइयों के खिलाफ खड़े होते हैं। बुराइयों के खिलाफ़ खड़े होने वाले ही संत होते हैं ।

पीएम ने कहा कि इस दिवाली पर हमें सामूहिक कार्यक्रम करके जिन बेटियों ने अपने जीवन में कुछ हासिल किया है, जो बेटियां दूसरों को प्रेरणा दे सकती हैं, उन बेटियों को सम्मानित करना चाहिए, इस दिवाली वही हमारा लक्ष्मी पूजन होना चाहिए । उन्होंने कहा कि आज विजयादशमी का पर्व है और उसके साथ-साथ हमारी वायुसेना का जन्मदिन भी है । हमारे देश की वायुसेना जिस प्रकार से पराक्रम की नई-नई ऊंचाईयां प्राप्त कर रही है, आइए हम सब हमारी वायुसेना की जांबाज जवानों को याद करें और उनके उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामना दें ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहली बार लालकिले की रामलीला से दूर दिल्ली के द्वारका सेक्टर 10 में होने वाली रामलीला में शामिल हो रहे हैं । पीएम मोदी के आने के चलते इलाके में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं । पुलिस को 5 दिन पहले ही प्रधानमंत्री के इस कार्यक्रम की जानकारी दे दी गई थी ।

सुरक्षा व्यवस्था को लेकर तैयारी काफी पहले से ही शुरू कर दी गई थी । रामलीला के जिस मंच से पीएम मोदी रावण पर धनुष से बाण चलाएंगे उसे राम मंदिर का रूप दिया गया है । मंच के आस-पास की जगह को एसपीजी ने अपने घेरे में ले लिया है । पिछले साल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री मोदी ने लाल किले की लव-कुश रामलीला में आयोजित दशहरा उत्सव में हिस्सा लिया था । इस मौके पर रावण, कुंभकर्ण और मेघनाद के पुतलों का भी दहन किया गया ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...