चिन्मयानंद प्रकरण : कोर्ट ने दुष्कर्म व रंगदारी के आरोपियों की आवाज के नमूने लेने की अनुमति दी

राहुल शुक्ला (ब्यूरो)

शाहजहांपुर । चिन्मयानंद मामले में कोर्ट ने चिन्मयानन्द, पीड़िता और पीड़िता के तीनों दोस्तों के आवाज के नमूने लेने की अनुमति दे दी है। आवाज के नमूने लेने के लिए सभी को लखनऊ लैब ले जाया जाएगा।
एसआईटी के प्रभारी आईजी नवीन अरोड़ा ने स्पष्ट किया था कि जांच को लेकर कोई भी जल्दबाजी नहीं की जाएगी तथा प्रत्येक बिंदु पर गहनता से जांच की जाएगी इसी क्रम में एसआईटी प्रत्येक बिंदु पर गहनता से जांच कर रही है ब तकनीकी रूप से भी प्राप्त सबूतों को पुख्ता करने की कोशिश कर रही है एसआईटी को सबूतों के तौर पर वीडियो मिले थे
हालांकि गिरफ्तारी से पहले दावा किया गया था की प्राप्त वीडियोज में आरोपितों ने अपनी मौजूदगी कुबूल की है परंतु एसआईटी के लिए सबूतों को पुख्ता करने हेतु आरोपितों की आवाज के नमूने की आवश्यकता है जिसके लिए एसआईटी ने कोर्ट में अर्जी दाखिल की थी। कोर्ट ने पांचों आरोपितों की आवाज को नमूने लेने की एसआईटी को अनुमति दे दी है इसके लिए सभी आरोपितों को लखनऊ लैब ले जाया जाएगा अभी यह सुनिश्चित नहीं किया गया है कि आरोपितों को लैब कब ले जाया जाएगा |
बताते चलें कि चिन्मयानन्द पर एसएस लॉ कॉलेज की छात्रा ने यौन शोषण का आरोप लगाया था वीडियो चिप बतौर साक्ष्य एसआईटी को छात्रा द्वारा सौंपी गई थी तथा चिन्मयानंद का मालिश करवाते हुए वीडियो वायरल हुआ था।
चिन्मयानंद की तरफ से रंगदारी मांगने का मुकदमा पंजीकृत कराया गया था जांच के बाद छात्रा व उसके दोस्तों को एसआईटी द्वारा गिरफ्तार किया गया था
छात्रा व उसके दोस्तों का वीडियो वायरल हुआ था। दोनों पक्षो ने अपनी आवाज होने से इनकार किया था।
हालांकि दोनों केसों के पांचों आरोपित शाहजहांपुर जिला जेल में बंद है



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!