Wednesday, October 23, 2019 - 02:26 PM
उत्तर प्रदेशक्राइमसोनभद्र

पंचतत्व में विलीन हुए रेनुकूट चेयरमैन, नम आंखों से दी गयी विदाई

315

मनोज वर्मा (संवाददाता)

– हजारों की संख्या में शव यात्रा में शामिल हुए लोग

– पूरे दिन साथ साथ लगी रही पुलिस व फोर्स

– डीएम व एसपी के आश्वासन पर खत्म हुआ जाम

रेनुकूट । आज गांधी जयंती है और पूरा देश आज बापू के साथ शास्त्री जी को याद कर रहा है । लेकिन रेनुकूट में चेयरमैन हत्याकांड में दोषियों को गिरफ्तार किए जाने व न्याय के लिए लोग सुबह से ही सड़कों को जाम किये रहे । सुबह कुछ लोगों ने मुख्यमंत्री को बुलाने की मांग करने लगे । जिसके बाद प्रशासन के हाथ – पांव फूलने लगे। फिर बाद में साथ में सीबीआई जांच की मांग भी उठने लगी ।

दिन चढ़ता रहा लेकिन नाराज लोग सड़क पर डटे रहे। जाम की वजह से सारी गाड़ियां जहां-तहां खड़ी हो गयी । नगर पंचायत चेयरमैन के समर्थन में लोग दुकानें तक बन्द रखीं । चूंकि गांधी जयंती की वजह से जिलाधिकारी कई सरकारी कार्यक्रमों में व्यस्त रहे । लेकिन कार्यक्रम को जल्द खत्म कर वे और एसपी रेनुकूट पहुंचे और पहले परिवार वालों से बातचीत की और उन्हें न्याय का पूरा भरोसा दिया । जिसके याद डीएम व एसपी दोनों धरना स्थल पहुंचे और माइक से लोगों को समझाने का प्रयास किया । लेकिन नाराज जनता गिरफ्तारी की बात पर अड़े रहे ।

डीएम एस0 राजलिंगम ने कहा कि 15 दिन पूर्व चेयरमैन साहब स्वास्थ्य समस्या को लेकर एक अस्पताल की मांग की थी, जो व्यक्ति सामाजिक कार्य के लिए इतना सोचता है उसके साथ घटना होना, मुझे भी काफी दुख है ।

उन्होंने बताया कि पूर्व में कुछ घटनाएं हुई थी उसमें भी लापरवाही की बात सामने आ रही है, उसकी भी जांच कराई जाएगी और जो भी दोषी होगा कड़ी कार्यवाही की जाएगी । वहीं एसपी प्रभाकर चौधरी ने बताया कि तीन लोगों को पूछताछ के लिए उठाया गया है । जल्द ही सभी की गिरफ्तारियां हो जाएंगी । काफी मान मनोव्वल के बाद धरने पर बैठे लोग माने ।

इसके बाद परिजनों के साथ स्थानीय लोगों के चेयरमैन शिव प्रताप सिंह के पार्थिव शरीर को लेकर पूरे नगर में जुलूस निकाला।

उनका शव यात्रा रेणुकूट पुलिस चौकी मेन चौराहा होते हुये मूर्धवा इनके बड़े भाई कैलाश सिंह के आवास से वापस मुख्य मार्ग से होते हुए रेलवे स्टेशन, हनुमान मंदिर तुर्रा चौराहा से गुजरी। बाद में रिहंद डैम के पास उनका अंतिम संस्कार किया गया । शिव प्रताप सिंह उर्फ बबलू सिंह के बड़े पुत्र अभय सिंह ने मुखाग्नि दी।
इस दौरान भारी संख्या मे पुलिस फोर्स साथ साथ मौजूद थी।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...