बाढ़: दहलीज पर पहुंची गंगा

17 सितंबर 2019

अबुलकैश ब्यूरो
* तटवर्ती गांव में दहशत
* जलस्तर में बढ़ाव जारी

धानापुर। गंगा में विगत एक सप्ताह से बढ़ रही गंगा में जलस्तर मंगलवार को भी जारी रहा। जिससे तटवर्ती गांव के लोगों में दहशत बढ़ता जा रहा है। गंगा की लहरें घरों के दहलीज पर पहुंच गई है। प्रभावित गांव रामपुर दिया, प्रसाहता, बुद्धपुर, नौघरा, नरौली, बड़ौरा, गुरैनी, सहित दर्जनों गांव के पास बाढ़ का पानी पहुंच गया है। पूर्व में जलस्तर बढ़ने और फिर वापस हो जाने के बाद लोगो ने राहत ली थी लेकिन अचानक गंगा में पानी बढ़ने के कारण एक बार फिर स्थिति खराब हो गयी है। ग्रामीणों का कहना है कि अगर ऐसे ही बढ़ाव जारी रहा तो स्थिति गम्भीर हो सकती है। नरौली निवासी महेंद्र, गोपाल, गणेश, अलगू, राधेश्याम, का कहना है कि बाढ़ से हर साल खतरा बना रहता है लेकिन कोई भी हैम लोगो की समस्या सुनने वाला नही है। जब कि हर साल गंगा की लहरें हमारे घरों को अपने आगोश में लेने को आतुर दिखाई देती हैं।

सैकड़ो एकड़ फसल जलमग्न
बाढ़ का पानी खेतों में पहुचने से किसानों को काफी नुकसान हुआ है प्रसाहटा, बुद्धपुर, नौघरा, आदि गांव के लगभग सैकड़ो एकड़ फसल जलमग्न हो गया है जिसमे ज्वार, अरहर, तिल, उर्द, धान की फसलें बर्बाद हुई हैं। बुद्धपुर निवासी बब्बन उपाध्याय, रामजी , गोविंद उपाध्याय, संजय उपाध्याय, सुदर्शन, संतोष यादव, अंगद यादव, अपरबल उपाध्याय, रमेश सिंह, शिवकुमार सिंह, रंगनाथ सिंह, नौघरा में जगरनाथ यादव, शाहनवाज खान, अबुल लैस खान, गंगा यादव, बांके उपाध्याय, शिवशंकर यादव, लवकुश यादव, कमला यादव, बुद्धिराम यादव आदि की फसलें बर्बाद हुई हैं । किसान अपने खेतों से फसलों को बचाने का असफल प्रयास कर रहे हैं वही कुछ लोग हरे चारे के रूप में फसल को काट रहे हैं।
खेतों में चल रही नाव
गंगा में मछली मारने वाले मछुवारे अब बाढ़ के कारण खेतो और गांव तक नाव लेकर पहुंच रहे हैं। जिसे देखने के लिए ग्रामीणों में उत्सुकता देखी जा रही है। प्रसाहता हिंगुटरगढ़ ताल में भी बढ़ का पानी पहुंच गया है। यदि बढ़ में बढ़ाव जारी रहा तो जल्द ही रामपुर दिया, प्रसाहता गांव सड़क से कट जाएगा और नाव का संचालन होने लगेगा।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!