पोलियो की दो बूँद खुराक पिला जिलाधिकारी ने किया पोलियो उन्मुलन अभियान का आगाज

15 सितम्बर 2019

आनन्द कुमार चौबे/अंशु खत्री (संवाददाता)

सोनभद्र । जिले में आज पोलियो उन्मूलन अभियान के तहत 0 से 05 साल तक के बच्चों को पोलियो की खुराक दी गई। डीएम ने सहिजन कलाँ गाँव स्थित एएनएम सेंटर पर एक बच्चे को पोलियो की दवा पिलाकर अभियान का शुभारंभ किया। जिले में 321002 बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने का लक्ष्य रखा गया है। पहले दिन जिले में सभी 1092 बूथों पर लाखों बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई गई। सोमवार से पांच दिन तक घर-घर जाकर बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने का अभियान चलाया जाएगा।

देश से पोलियो को जड़ से खत्म करने के लिए आज से पुनः पल्स पोलियो उन्मूलन अभियान शुरू किया गया। जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम सहिजन कलाँ गाँव स्थित एएनएम सेंटर पहुंचकर एक बच्चे को दवा पिलाकर अभियान का शुरूआत किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने शून्य से पांच वर्ष तक के सभी बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाए जाने की का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि भारत अब पोलियो मुक्त हो गया है, लेकिन पड़ोसी देशों में अभी भी पोलियो का उन्मूलन नहीं हुआ है। ऐसे में बाहर से आने वाले लोगों के द्वारा पोलियो का वायरस फिर आ सकता है। इसलिए हम सभी को जागरूक व सजग रहकर इस राष्ट्रव्यापी अभियान में पांच साल तक के बच्चों को पोलियो की दवा पिलाकर सहयोग देना चाहिए।

इसी क्रम में रॉबर्ट्सगंज के धर्मशाला चौक पर वरिष्ठ चिकित्सक डॉ0 रामानुज मिश्रा ने भी एक बच्चे को पोलियो की खुराक पिला धर्मशाला स्थित पोलियो बूथ पर अभियान का शुरुआत किया।

जिलाधिकारी ने किया गाँव का निरीक्षण –

जिलाधिकारी ने पोलियो उन्मूलन अभियान के आगाज के पश्चात सहिजन कलाँ में बने उपकेंद्र का निरीक्षण किया। इस दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 एस0पी0सिंह ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि यहाँ पर एक ही प्रसुति कक्ष होने के कारण डिलेवरी के लिए आने वाली महिलाओं को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है। जिस पर जिलाधिकारी ने तत्काल और दो कमरे शौचालय के साथ बनाने के लिए मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया। उसके बाद जिलाधिकारी ने सहिजन कलाँ गाँव के तालाब का निरीक्षण किया तथा ग्राम प्रधान शिवाजी सिंह को तालाब में मत्सय पालन के लिए सलाह दिया। इस पर ग्राम प्रधान ने तालाब को आबादी खाते में दर्ज होने की बात कही। जिलाधिकारी ने उन्हें आश्वासन दिया गया कि उसे तालाब में दर्ज कराया जायेगा। तत्पश्चात जिलाधिकारी ने सहिजन कलाँ प्राथमिक/पुर्व माध्यमिक विद्यालय का निरीक्षण किया और दोनों विद्यालयों की दशा देखकर वहाँ तैनात प्रधानाध्यापक/प्रधानाध्यापिका को फटकार लगाते हुए सुधार करने का हिदायत दिया।

इस दौरान प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ0 रामकुँवर, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी (प्रतिरक्षण अधिकारी) डॉ0 बी0के0 अग्रवाल, डब्लूएचओ के अधिकारी, ग्राम प्रधान सहिजन कलाँ शिवाजी सिंह, रामसमुज मौर्या एवं सुचना विभाग नेसार अहमद, सहिजन कलाँ उपकेंद्र के समस्त स्टाफ एवं सहिजन एवं आसपास के गांवों के तमाम ग्रामीण उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!