गायब खसरा रजिस्टर मामले में पू0न0मं0 ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंप की एसआईटी जाँच की माँग

12 सितम्बर 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । उम्भा जमीनी विवाद की तर्ज पर टोलप्लाजा वन भूमि पर हो रहे अवैध कब्जे तथा नगरपालिका के नजूल भूमि के गायब खसरा रजिस्टर की जांच एसआईटी से कराये जाने के संबंध में आज पूर्वांचल नव निर्माण मंच एवं रामगढ़ तहसील बनाओ संघर्ष समिति के नेताओं के संयुक्त प्रतिनिधी मण्डल ने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। इस दौरान वक्ताओं ने आरोप लगाते हुए कहा कि सोनभद्र के वन भूमि पर आए दिन दबंगों द्वारा अवैध कब्जे हो रहे हैं और इन दबंगों को राजस्व अधिकारियों के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों की भी मूक सहमति प्राप्त होती है। वहीं नगर पालिका परिषद से संदिग्ध परिस्थितियों में खसरा रजिस्टर गायब हो जाता है और पुलिस एक वर्ष से ज्यादा समय बीत जाने के बाद भी किसी नतीजे पर नहीं पहुँचती है जबकि नगर पालिका के रिकार्ड में करोड़ो की भूमि नजूल के खाते में दर्ज है।

पूर्वांचल नव निर्माण मंच के अध्यक्ष श्रीकांत त्रिपाठी, उपाध्यक्ष गिरीश पाण्डेय, चौहान महासभा के प्रदेश अध्यक्ष मुरली सिंह चौहान, मनोज सिंह, जितेंद्र कुमार, अशोक पाठक, मंसूर आलम समेत अन्य लोग उपस्थित रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!