अरुण जेटली को श्रद्धांजलि देने घर पहुंचे पक्ष-विपक्ष के दिग्गज नेता

25 अगस्त 2019

भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता अरुण जेटली का लंबी बीमारी के बाद शनिवार को एम्स में 66 वर्ष की आयु में निधन हो गया । उन्हें 9 अगस्त को एम्स में भर्ती कराया गया था । उनके निधन से पूरे देश में शोक की लहर है । गुलाम नबी आजाद समेत विपक्ष के कई नेताओं ने जेटली के घर पहुंचकर श्रद्धांजलि दी है ।

बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी भी उनके घर पहुंचे, जहां अरुण जेटली का शव अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था । आडवाणी ने जेटली को याद करते हुए कहा कि जेटली एक कद्दावर नेता और बेहतरीन प्रशासक तो थे ही साथ ही कानून का ज्ञान उनमें चार चांद लगा देता था ।

आडवाणी अरुण जेटली के परिवार को ढांढस बंधाते भी नजर आए । अपने लंबे राजनीतिक जीवन में अरुण जेटली ने लालकृष्ण आडवाणी के साथ काफी काम किया ।

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपना लखनऊ दौरा बीच में ही रद्द कर दिल्ली पहुंचकर अरुण जेटली को श्रद्धांजलि दी ।

आम आदमी के नेता और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने भी जेटली के घर पहुंचकर अपनी श्रद्धांजलि दी ।

उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी अरुण जेटली के अंतिम दर्शन कर श्रद्धांजलि दी।

बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी अरुण जेटली को श्रद्धांजलि दी है ।

इसके अलावा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोहरा, आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम एन चंद्रबाबू नायडू और राकांपा नेता शरद पवार समेत कई नेता अरुण जेटली के घर उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की ।

रविवार को अरुण जेटली के पार्थिव शरीर को उनके आवास से भारतीय जनता पार्टी के नेता अरुण जेटली के मुख्यालय ले जाया जा रहा है ।

रविवार को ही दिल्ली के निगमबोध घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा । इससे पहले, उनका पार्थिव शव अंतिम दर्शन के लिए पार्टी मुख्यालय में रखा जाएगा ।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!