पीलीभीत में तैनात सिपाही की उत्तराखंड में गोली मारकर हत्या के मामले में तीन पुलिस कर्मी लाइन हाजिर

17 अगस्त 2019
राजेश गुप्ता (विशेष संवाददाता)

पीलीभीत । उत्तराखंड के उधमनगर के गदरपुर थाना इलाके में बीते 13 अगस्त की शाम यूपी पुलिस के सिपाही की हत्या का सीसीटीवी सोशल मीडिया पर वायरल है। बीते मंगलवार को पीलीभीत जिले में यूपी 100 में तैनात सिपाही मयंक सिंह एक ढाबे में खाना खाने पहुंचा था, तभी कुछ युवकों के साथ हुए विवाद के बाद उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वारदात सीसीटीवी में कैद हुई थी। पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी है। जांच में सामने आया है कि बिना छुट्टी लिए मयंक ड्यूटी से गायब हुआ था। इस मामले में तीन पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की गई है।रामपुर के बिलासपुर थाना क्षेत्र के चंदेली गांव निवासी मयंक सिंह ( 26) की पीलीभीत जनपद के थाना माधोटांडा में यूपी 100 में तैनाती थी। 10 अगस्त को मयंक सिंह अपने एक साथी को बताकर बगैर छुट्टी लिए घर चला गया था। 13 अगस्त की रात आठ बजे बजे वह उत्तराखंड राज्य के उधम सिंह नगर जिले के गदरपुर महतोस प्रेम नगर मोड़ के के पास खालसा ढाबा पर अपने साथियों के साथ खाना खा रहा था। इसी दौरान ढाबे पर बाइक से कुछ युवक पहुंचे, जिन्होंने मयंक पर फायरिंग कर दी। कांस्टेबल मयंक गंभीर रूप से घायल हो गया।सूचना पाकर मौके पर पहुंचे उधम सिंह नगर के एसएसपी बरिंदरजीत सिंह पुलिस फोर्स के साथ घायल मयंक को इलाज के लिए रुद्रपुर अस्पताल पहुंचाया। लेकिन सिपाही मयंक ने रास्ते में दम तोड़ दिया। पूरनपुर पुलिस क्षेत्राधिकारी कमल सिंह और थाना प्रभारी माधोटांडा उमेश कुमार सिंह सोलंकी को जब घटना के बारे में पता चला तो वे भी उत्तराखंड पहुंच गए। इस हत्याकांड में चार लोगों को नामजद किया गया है। उनकी तलाश जारी है।एसपी मनोज कुमार सोनकर ने बताया कि, सिपाही बिना अवकाश स्वीकृत कराए ही बीते रविवार से नदारद था। वह पिता मौत के बाद वर्ष 2017 में वह मृतक आश्रित कोटे में भर्ती हुआ था। एसपी ने सीओ सिटी धर्म सिंह मार्छाल को पूरे प्रकरण की जांच सौंपी थी।रिपोर्ट मिलने के बाद थाना माधौटांडा प्रभारी और यूपी 100 जिला प्रभारी व एक सिपाही को लाइन हाजिर कर दिया है।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!