Wednesday, November 13, 2019 - 08:19 AM
सिंगरौली

जिले में सर्वशिक्षा अभियान की खुली पोल, मासूम बच्चे स्कूल के बजाय ले रहे कोचिंग में ज्ञान

59

03 अगस्त 2019

जनपद न्यूज ब्यूरो

सिंगरौली । शिक्षा को लेकर सरकार भले ही बड़े-बड़े नारों के साथ दावे करते हों मगर जमीनी हकीकत कुछ और ही है । यूं तो सरकारी स्कूल पर पहले से ही गरीबों का स्कूल होने का ठप्पा लगा हुआ है । जिसकी वजह से सरकारी स्कूलों में संख्या कान्वेंट स्कूलों के मुकाबले काफी कम है। जो आते भी हैं तो वे या तो मिड डे मील के चक्कर में आते हैं या फिर अन्य मिलने वाली सुविधाओं के चक्कर में । फिर भी हर साल सरकार सर्व शिक्षा अभियान के तहत बच्चों को स्कूल तक लाने के लिए स्कूल चलो अभियान चलाती है ताकि लोगों को जागरूक कर उन बच्चों को स्कूल तक लाया जा सके जो अभी तक स्कूल जाने से वंचित रह गए हैं । इसके लिए लाखों रुपये हर जिले में खर्च भी किया जाता है ।
मगर आज हम विन्ध्यनगर क्षेत्र में ऐसे बच्चों के बारे में बताने जा रहे हैं जो स्कूल के नाम पर कोचिंग पढ़ते हैं । यूं तो बच्चे स्कूल के ड्रेस में जाते हैं मगर वह भी कोचिंग सेंटर । मुफ्त शिक्षा से हटकर आखिर बच्चों को एक सरकारी सामुदायिक भवन में बैठकर पढ़ाया जा रहा है । किसके आदेश से यह संचालित हो रहा यह कोई बताने को तैयार नहीं । लेकिन गरीब बच्चों के मां-बाप से बेहतर शिक्षा के नाम पर कुछ लोगों की जेबें जरूर गर्म हो रही हैं ।

हमारे संवाददाता जय प्रकाश पटेल ने जब मौके पर जाकर देखा तो एक कमरे में कक्षा 1 से 5 तक के बच्चों को बैठाकर एक साथ पढ़ाया जा रहा है । जहां एक महिला टीचर पढ़ाती हुई मिली । पूछने पर कुछ बताने को तैयार नहीं हुई । लेकिन यब साफ हो गया कि शिक्षा के नाम पर जिस तरह से दुकान चलाकर बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है उसके लिए आखिर जिम्मेदार कौन है । सरकारी प्राथमिक स्कूल के अधिकारी यदि सही तरीके से स्कूल चलो अभियान को जमीन पर लागू किया होता तो शायद ये बच्चे आज कोचिंग सेंटर में नहीं बल्कि किसी प्राथमिक सरकारी स्कूल में पढ़ रहे होते ।
बहरहाल लाखों रुपये सर्व शिक्षा अभियान पर खर्च करने के बाद भी बच्चों को स्कूल तक न पहुंच पाने का यह कोई नया मामला नहीं है । यदि जनपद में देखा जाय तो ऐसे तमाम बच्चे आज भी स्कूल छोड़ या तो बाल मजदूरी कर रहे हैं या फिर ऐसे ही किसी स्कूल के नाम पर कोचिंग जा रहे हैं ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...