हज-ए-बैतुल्लाह के सफर पर हाजी रवाना

02 अगस्त 2019


मुमताज़ खान (संवाददाता)

सुकृत। हज-ए-बैतुल्लाह के मुक़्क़द्दस सफर पर हाजियो की रवानगी का आगाज हो चुका है। लोगों ने अपने अजीज-ओ-अकारिब को हज पर जाने से पहले गुलपोशी कर रूखसत किया। इस दौरान नात-ओ-मनकबत का सिलसिला भी चलता रहा।

शुक्रवार को सुकृत क्षेत्र तकिया दरगाह से इम्तियाज़ अहमद खां और उनकी अहलिया बदरुन्निशा और सुकृत से मोहम्मद शमीम और उनकी शरीके हयात शकीला बानो के साथ हज के मुकददस सफर पर रवाना हो गए। वह यहां से सड़क के रास्ते बनारस अस्थाई हज हाउस पहुंचेंगे। जहां से शनिवार को सुबह फ्लाइट के जरिए मदीना के लिए रवाना होंगे। इससे पहले लोग उनके घर पहुंचे और उन्हें फूल माला पहनाकर दुआ की दरख्वास्त की।

इस बीच नात-ओ-मनकबत का सिलसिला भी चलता रहा जिसमे मौलाना शायरे इस्लाम महफूज़ निज़ामी सोनभद्री ने बेहतरीन कलाम पेश किया।जिसके बाद नारे तकबीर अल्लाह-ओ-अकबर नारे रिसालत की सदाएं गूंज उठी।

इस काफिले में मुख्य रूप से अलीम खान रियाज़ खान मुस्ताक खान एकबाल खान सुरेंद्र सिंह कुशवाहा राम प्यारे विश्वकर्मा एकबाल अहमद प्रधान आमिल बेग सरफ़राज़ खान कलीम बेग मेराज़ बेग शब्बीर बेग आफाक अहमद,असरफ अब्बास समीर लाडू नईम सहित सैकड़ों लोग शामिल रहे।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!