उन्नाव केस पर बोले डिप्टी सीएम – जांच के बाद आएगी सच्चाई

30 जुलाई 2019

लखनऊ । आज उन्नाव रेप पीड़िता के परिजन अस्पताल के बाहर धरने पर बैठ गए । जिसके बाद सियासत और तेज हो गयी । अखिलेश यादव भी के अस्पताल पीड़िता से मिलने पहुंचे लेकिन वे नहीं मिल सके । उसके बाद डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा भी केजीएमयू पहुंचे । वहां वे पीड़ित परिवारों से मिले ।

डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा ने कहा है कि सरकार की सबसे पहली प्राथमिकता पीड़िता को बेहतर इलाज देने की है । लिहाजा डॉक्टरों की टीम पूरी शिद्दत से पीड़ित लड़की की जान बचाने में जुटी हुई है और इलाज का पूरा खर्चा सरकार उठायेगी ।

डिप्टी सीएम ने कहा कि सरकार ने केस को सीबीआई को सौंप दिया है । सीएम खुद परीक्षण कर रहे है।उन्होंने कहा कि कोई भी बख्शा नही जाएगा । डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा बोले कि विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पहले से पार्टी से निलंबित है । अब ऐसे में जब तक जांच पूरी नहीं होती किसी भी कार्रवाई की कोई जरूरत नहीं लगती है। डॉक्टर शर्मा ने साफ किया कि भारतीय जनता पार्टी में किसी भी नेता को निलंबित किए जाने का मतलब साफ है कि वह पार्टी की किसी भी गतिविधि में शामिल नहीं है, यानी कि यह कदम एक तरीके से निष्कासन ही होता है ।

डिप्टी सीएम ने कहा कि लड़की की सेहत में पहले से सुधार हुआ है, और उम्मीद है कि जल्द ही वह स्वस्थ होगी । उपमुख्यमंत्री ने कहा कि अभी यह कहना मुश्किल है कि इस मामले में कोई साजिश है या फिर यह मामला रोड एक्सीडेंट का है । उन्होंने कहा कि सभी पहलुओं की जांच हो रही है और जांच पूरी होने के बाद ही सच सामने आएगा । उन्होंने कहा की ट्रक मालिक का संबंध समाजवादी पार्टी के नेताओं के साथ होने की बात सामने आ रही है. जांच के बाद सब कुछ साफ होगा। पीड़ित परिवार को दी गई सुरक्षा के बारे में उन्होंने कहा कि उन्हें पहले ही पूरी सुरक्षा सरकार ने दे रखी है, लेकिन और अगर जरूरत हुई तो और भी कदम उठाए जाएंगे ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!