शौचालय निर्माण मेंं किसी तरह की लापरवाही नहीं होगी क्षम्य : डीएम

29 जुलाई 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । केद्र व राज्य सरकार द्वारा चलायी जा रही जन कल्याणकारी, लाभार्थीपरक व विकास परक योजनाओं को पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाने के लिए खण्ड विकास अधिकारी, एडीओ पंचायत व सेक्रेटरी पूरी क्षमता के साथ लगकर कार्यों को पूरा करें। स्वच्छ भारत मिशन के तहत गावों में अधूरे पड़े शौचालयों का निर्माण कार्य पूरा कराते हुए अवशेष पात्र व्यक्तियों की सूची तैयार कर उन्हें हर हाल में शौचालय दिया जाय। किसी भी हाल में पात्र व्यक्ति शौचालय से वंचित न रहें अन्यथा की दशा में इस कार्य में लापरवाही बरतने वाले सम्बन्धितों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी। ग्रामीण स्तर पर अधूरे शौचालय निर्माण कार्य को 15 अगस्त 2019 तक हर हाल में पूरा कर लिया जाय। उक्त निर्देश जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल ने आज कलेक्ट्रेट सभा में आयोजित स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के तहत ग्रामीण स्तरीय शौचालयों की समीक्षा बैठक में दिए। समीक्षा बैठक में उन्होंने ग्रामीण स्तर अवशेष शौचालयों की बारी-बारी से समीक्षा करते हुए खण्ड विकास अधिकारी, सहायक विकास अधिकारी और सेक्रेटरी से हकीकत को जाना। जिन गांवों में शौचालय का लक्ष्य पूरा नहीं हुआ है, उन गांवों में सेक्रेटरीगणों को तत्काल जाने के निर्देश दिये गए तथा स्थिति की सही जानकारी करें और सम्बन्धित अधिकारी को अवगत करायें, ताकि उन्हें पात्रता के आधार पर शौचालय दिया जा सके। इस दौरान उन्होंने खण्ड विकास अधिकारी ग्रामीण स्तर पर विशेष दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि इस कार्य हेतु अपने स्तर से भी गांव में जाकर वास्तविक स्थिति की जानकारी करें। शौचालय से वंचित परिवारों की सूची तैयार कर हर हाल में उनके शौचालय का निर्माण कराया जाय। किसी अपात्र व्यक्ति का चयन कदापि ही न किया जाय, इसकी बारीकियों से तहकीकात सम्बन्धित अधिकारी समय से पहले ही कर लें। जिलाधिकरी ने सम्बन्धितों को निर्देशित करते हुए कहा कि शौचालय निर्माण मेंं किसी तरह की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी, जिसकी जिम्मेदारी उसकी स्वयं की होगी। आपस में सभी अधिकारियों से समन्वय बनाकर ग्रामीण स्तर पर शौचालय व आवश्यक कार्यों को समय से पूरा कराना सुनिश्चित करें।

उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय का निर्माण जल्द से जल्द करायें। जिसमें छूटे हुए पात्र परिवारों को सम्मिलित किया जाय, जिससे कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत हो रहे शौचालय निर्माण में गुणवत्ता का विशेष ध्यान दिया जाय और पूर्ण हो चुके शौचालयों की जीओ टैगिंग मय फोटो के साथ करायें। स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वच्छता के अभियान को मजबूत बनाने के लिए निगरानी समिति के सदस्यों को प्रशिक्षित करते हुए टीम गठित कराकर लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के लिए तैयार किया जाय। समीक्षा बैठक के मौके पर जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल के अलावा मुख्य विकास अधिकारी अजय कुमार द्विवेदी, डीपीआरओ आर0के0 भारती, खण्ड विकास अधिकरीगण, सहायक विकास अधिकारीगण व ग्राम विकास अधिकारीगण सहित अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहें।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!