पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का 81 वर्ष की उम्र में निधन

20 जुलाई 2019

कांग्रेस की दिग्गज नेता और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का शनिवार को दिल्ली स्थित एस्कॉटर्स अस्पताल में निधन हो गया । उनका निधन 81 साल में हुआ । वह लंबे से बीमार चल रही थीं । यह भारतीय राजनीति और दिल्ली कांग्रेस के लिए बड़ी क्षति है । शीला 15 साल तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रही थीं. शीला दीक्षित के निधन की खबर से देश में शोक की लहर छा गई । तमाम नेताओं ने उनके निधन पर दुख व्यक्त किया । राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस नेता राहुल गांधी समेत तमाम नेताओं ने उनके निधन पर दुख व्यक्त किया है.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट किया कि दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और एक वरिष्ठ राजनेता शीला दीक्षित के निधन के बारे में जानकर दुख हुआ । उनका कार्यकाल राजधानी दिल्ली के लिए महत्वपूर्ण परिवर्तन का दौर था, जिसके लिए उन्हें याद किया जाएगा । उनके परिवार और सहयोगियों के प्रति मेरी शोक-संवेदनाएं ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शीला दीक्षित के निधन पर ट्वीट कर दुख व्यक्त किया. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि शीला दीक्षित जी के निधन से गहरा दुख हुआ. उन्होंने ने कहा कि शीला दीक्षित शानदार व्यक्तित्व की धनी महिला थीं । उन्होंने ने दिल्ली के विकास में अहम योगदान दिया । उनके परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदना ओम शांति ।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शीला दीक्षित के निधन पर दुख जताया. उन्होंने ट्विटर पर ट्वीट किया कि वो कांग्रेस की चहेती बेटी थीं । दुख की इस घड़ी में मेरी उनके परिवार और दिल्ली के नागरिकों के प्रति संवेदना है । अपने तीन कार्यकाल में उन्होंने काफी अच्छा काम किया. मैं शीला दीक्षित के निधन से बेहद दुखी हूं ।

शीला दीक्षित के निधन पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने दुख जताया । उन्होंने ने कहा कि शीला दीक्षितजी के निधन से गहरा दुख हुआ. उन्होंने मुझे प्यार किया, उन्होंने दिल्ली और देश के लिए जो कुछ भी किया, लोग उसे याद रखेंगे. वह पार्टी की एक बड़ी नेता थीं, पार्टी के प्रति उनका योगदान, राष्ट्र की राजनीति और विशेष रूप से दिल्ली के लिए, अपार है


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!