100 साल पुराने मूलचंद धर्मशाला की जमीन पर कब्जा करके शहर के एक गेस्ट हाउस में मिला लेने के मामले की शिव सेना के जिला प्रमुख ने जिलाधिकारी से की शिकायत

20 जुलाई 2019

दीनदयाल शास्त्री ब्यूरो

पीलीभीत । स्टेशन रोड पर स्थित लगभग 100 साल पुराना मूलचंद धर्म शाला की बेशकीमती जमीन पर कब्जा करके शहर के एक गेस्ट हाउस में मिला लेने के मामले की शिकायत जिलाधिकारी को दी गई है।
वही शिव सेना के जिला प्रमुख पण्डित पंकज शर्मा द्वारा अपने शिकायत पत्र के माध्यम से बताया गया है कि
शहर के स्टेशन रोड पर ठीक रेलवे स्टेशन चौराहे के समीप सिविल लाइन साउथ मे बल्लभनगर कालोनी से सटी 100 साल से अधिक पुरानी मूलचंद धर्म शाला हैं ,
क्योंकि धर्मशाला की करीब 15 फिट चौडी एवं 50 मीटर लंबी गैलरी को चाहर दीवारी खडी करके बगल मे स्थित एक गेस्ट हाउस में मिला लिया गया है। जबकि उस गेस्ट हाउस के मालिक ने इस धर्मार्थ संस्था की जमीन को ना तो खरीदा है और ना ही किराए पर लिया है क्योकि ट्रस्ट से जुडे लोग बरेली मे रहते है उनका यहा आना जाना कभी कभार होता है इसलिए इस धर्मार्थ संस्था मूलचंद धर्मशाला की संपत्ति को हड़पने के लिए शहर के भू माफीया की नजरें लगी हुई है ।
वही इसी क्रम मे एक गेस्ट हाउस के मालिक ने धर्म शाला की एक दिशा की ओर की गैलरी को अपने कब्जे मे ले लिया है।
और मौके पर बाउड्री खड़ी कर ली है ।
वही यह भी कहा है कि नियमानुसार धर्मार्थ संस्था व ट्रस्ट की संपत्ति का बैनामा बिना जिला जज की अनुमति के नही किया जा सकता है बाबजूद इसके शहर के प्रमुख जमीन ब्रोकर के मार्फत मूलचंद धर्म शाला के भवन की दक्षिण दिशा मे जो खाली अहाता था उस अहाते की करीब 300 गज जगह का भी फर्जी तरीके से चार साल पहले बैनामा एक व्यापारी के नाम कर दिया गया ट्रस्ट के लोगो को इसकी कोई भनक नही है ।
जबकि मूलचंद धर्म शाला की संपत्ति को कब्जाने के इस मामले की किसी वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी को मौके पर भेजकर जांच करा कर दोषियों के विरूद्ध कडी कारवाई की मांग की है।
ताकि धर्मार्थ संस्था मूलचंद धर्म शाला की संपत्ति जनहित मे सुरक्षित रह सके।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!