महिलाओं की सुरक्षा हो प्रथम प्राथमिकता : अनामिका चौधरी

03 जुलाई 2019

आनन्द कुमार चौबे (संवाददाता)

सोनभद्र । जिले की महिला बहनों को सुरक्षित रखा जाय, महिलाओं के उत्पीड़न की जानकारी होने पर तत्परता से कदम उठायें जाय। हर हाल में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित किया जाय। महिलाएं भी अपने-अपने घर परिवार को देखते हुए समाज की मुख्य धारा से जुड़े और महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करें। उक्त बातें राज्य महिला आयोग उत्तर प्रदेश की सदस्य अनामिका चौधरी ने बुधवार को स्थानीय लोक निर्माण विभाग के गेस्ट हाउस में आयोजित महिला उत्पीड़न सम्बन्धी समीक्षा बैठक/सुनवाई के दौरान कहीं। उन्होंने मौके पर मौजूद उप जिलाधिकारी सदर यमुनाधर चौहान, पुलिस क्षेत्राधिकारी अभिषेक कुमार सिंह को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि महिला उत्पीड़न के प्रकरणों को समयबद्ध तरीके से निस्तारित करते हुए महिलाओं के मान-सम्मान को बनाये रखा जाय। समीक्षा बैठक में सदस्य अनामिका चौधरी ने सम्बन्धितों को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि महिला उत्पीड़न सम्बन्धी प्राप्त शिकायतों का निस्तारण गुणवत्तापूर्वक 15 दिनों में कराते हुए अवगत भी कराया जाय। महिलाओं के उत्पीड़न के प्रकरण जैसे मामलों को गंभीरता से लेते हुए जल्द से जल्द समाधान किया जाय। उन्होंने बताया कि नारी सम्मान के लिए केन्द्र व प्रदेश सरकार काफी संजीदा व तत्पर है, जिसके तहत 1090 वूमैन पावर लाईन, 181 पारिवारिक महिला हेल्फ लाईन, आशा ज्योति एवं रानी लक्ष्मी बाई महिला शक्ति योजना की व्यवस्था की गयी है। इसके तहत महिलाओं के समस्याओं सम्बन्धी मामलों का त्वरित निस्तारण किया जा सके। समीक्षा के दौरान सदस्य अनामिका चौधरी के अलावा उप जिलाधिकारी सदर यमुनाधर चौहान, पुलिस क्षेत्राधिकारी अभिषेक कुमार सिंह, जिला प्रोबेशन अधिकारी राजनाथ राम, समाज कल्याण अधिकारी कृष्णानन्द तिवारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी अजीत सिंह, महिला थाना राबर्ट्सगंज के प्रभारी सरोजमा सिंह, मीडिया के पदाधिकारीगण, चन्दा मिश्रा, दीपिका सिंह व अंशु पाण्डेय सहित अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहें।


अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
error: Content is protected !!