मिट्टी के मलबे में दबकर महिला की मौत कोहराम

संजीव कुमार पांडेय (संवाददाता)

मिर्जापुर। जमालपुर थाना क्षेत्र के रेरूपुर के खेमईबरी गांव रविवार की सुबह तालाब किनारे मिट्टी का टीला ढहने से मलबे में दबकर महिला की मौत हो गई। मौत से आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस को शव कब्जे में लेने से रोक दिया। सीओ के आश्वासन पर ढ़ाई घंटे बाद ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ। तब पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। अहरौरा थाना क्षेत्र के धुरिया गांव निवासिनी कमला देवी पत्नी रामनरेश यादव लगभग एक माह पूर्व अपने मायके जमालपुर के तेतरिया कला गांव आई थी। रविवार की सुबह टहलने निकली थी। टहलते हुए रेरूपुर ग्राम पंचायत के तालाब की ओर चली गई। तालाब का भीटा भरभरा कर ढह गया। मिट्टी के मलबे में दबकर महिला की मौत हो गई। घटना की जानकारी होते ही परिजन पहुंच गए। महिला की मौत से परिजनों का रो रो कर हाल बेहाल हो गया। मृतका को तीन पुत्र जयप्रकाश, ओमप्रकाश और सत्यप्रकाश हैं। मौत से आक्रोशित परिजनों ने पुलिस को शव कब्जे में लेने रोक दिया। परिजन मुआवजा व कार्रवाई की मांग को लेकर अड़े रहे। लगभग ढ़ाई घंटे तक ग्रामीणों ने हंगामा किया। सूचना पर सीओ चुनार रामानंद राय पहुंच गए। सीओ के आश्वासन पर ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतका के पति रामनरेश यादव ने थाने में तहरीर दी कि अचानक तालाब का भीटा ढहने से मलबे में दबने से पत्नी की मौत हुई है। चुनार एसडीएम नीरज प्रसाद पटेल ने मृतका के परिजनों को सरकारी मदद दिलाने का आश्वासन दिया।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
[ngg src="galleries" ids="1" display="basic_slideshow" thumbnail_crop="0"]
Back to top button