बसपा सुप्रीमों ने भाजपा पर साधा निशाना, ब्राह्मण सम्मेलन से बीजेपी की नींद उड़ी हुई

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा प्रमुख मायावती ने बुधवार को पार्टी कार्यक्रम के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि मेरे दिशानिर्देशन में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र मिश्र के नेतृत्व में बसपा द्वारा प्रबुद्ध वर्ग के सम्मान, सुरक्षा, तरक्की आदि को लेकर विचार संगोष्ठी के कार्यक्रम प्रदेश के ज़िलों में चल रहे हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक बसपा प्रमुख ने कहा कि ये कार्यक्रम पिछले महीने की 23 तारीख से खासकर ब्राह्मण समाज की धार्मिक भावनाओं को लेकर अयोध्या से शुरू किया गया है। इन कार्यक्रमों के सफलता की चर्चा देशभर के मीडिया में काफी हो रही है। इससे भाजपा सहित अन्य सभी पार्टियों की नींद उड़ी हुई है।

दरअसल, उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में बसपा समेत तमाम राजनीतिक दलों ने वोटर्स को लुभाने की कोशिशें जारी कर दी हैं। इसी क्रम में बसपा ने सतीश चंद्र मिश्र के नेतृत्व में ब्राह्मण सम्मेलन की शुरुआत की। सतीश चंद्र मिश्र का मानना है कि दलित के साथ अगर ब्राह्मण वोट मिल जाएं तो फिर से सत्ता में वापसी की जा सकती है।

इसी बीच बसपा प्रमुख ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि इन्होंने इस कार्यक्रम के विरुद्ध खुलकर सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करना शुरू कर दिया है। भाजपा सरकार ने इस कार्यक्रम पर नई शर्तें और पाबंदी लगाना शुरू कर दिया है। बसपा इसकी निंदा करती है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!