ऊर्जाँचल के प्रधानों ने परियोजना के क्षेत्रीय सुरक्षा अधिकारी के खिलाफ खोला मोर्चा, लगाया कई गंभीर आरोप

आनन्द कुमार (संवाददाता)

शक्तिनगर। ऊर्जाँचल के छह प्रधानों ने बीना परियोजना मे तैनात क्षेत्रीय सुरक्षा अधिकारी डी. के. सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. बांसी,जमशीला, चंदूआर, घरसड़ी, कोहरौलिया, मिसरा प्रधानों ने मुख्यमहाप्रबंधक बीना को दिए पत्र मे आरोप लगाते हुए बताया की गांव की समस्या दर किनार कर सुरक्षा अधिकारी तानाशाही रवैया अपनाते डराया धमाकाया जाता है. डीएम से बात करने को कह कर अपना पल्ला झाड़ लेते है. बताया की मिलीभगत से सिक्योरिटी गार्ड व एक्समैन का भुगतान मे भारी भ्रष्टाचार मे लिप्त है. गार्डो व एक्समैन का भुगतान फर्जी बैलेंसशिट बना कर भगतान की जांच के साथ सिक्योरिटी एजेंसी से जांच की भी मांग की है।

कालोनी परिसर मे बन रहे बेकरी काअवैध निर्माण को बढ़ावा दिया जा रहा था. पहले पत्र के माध्यम से अवैध निर्माण को वैध अवैध का करार दिया गया है। मिलीभगत से लाखों रुपये का बंदर बाँट हुआ है। बांसी प्रधानपति अरबिंद केशरी, जमशीला प्रतिनिधि कमलेश सिंह उर्फ़ पप्पू सिंह , चंदूआर प्रधान योगेंद्र भारती , कोहरौलिया प्रधानप्रतिनिधि चन्दन कुमार, चंदूआर प्रधानपति ओमनारायण के साथ मिसरा प्रधानपति राम कुमार गुप्ता ने एनसीएल के महाप्रबंधक कार्मिक के साथ चीफ विजिलेंस सिक्योरिटी सिंगरौली को भी पत्र प्रेषित कर जांच के साथ स्थान्तरण की भी मांग किया है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!