संघर्ष समिति ने सौंपा 11 सूत्रीय मांगपत्र

कृपाशंकर पांडे (संवाददाता)

ओबरा। ओबरा तापीय परियोजना के दौरे पर आये उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत उत्पादन निगम के नवागत प्रबंध निदेशक पी गुरुप्रसाद के प्रथम ओबरा परियोजना आगमन पर विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति ,ओबरा के संयोजक इं अदालत वर्मा के नेतृत्व में विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों ने उनका स्वागत एवं अभिनंदन किया।समिति ने प्रबंध निदेधक पी गुरुप्रसाद व निदेशक तकनीकी अजीत कुमार तिवारी को अधिकारियों एवं कर्मचारियों की ज्वलंत समस्याओं को उनके समक्ष प्रस्तुत करते हुए 11 सूत्रीय मांगपत्र भी सौंपा।
समिति ने सभी संवर्गो में रिक्त पदों के सापेक्ष प्रोन्नति करने और भर्ती करने की मांग की तथा अधिशासी अभियंता के रिक्त पदों के सापेक्ष 2008 बैच के सहायक अभियंताओं की पदोन्नति माननीय न्यायालय के निर्णय के प्रतिबंधाधीन जल्द करने की अपील की।समिति ने राज्य सरकार की भांति 2005 तक के नियुक्त कार्मिकों को पुरानी पेंशन देने,परियोजना की सड़को और मुख्य मार्ग से जुड़ने वाली सड़को की खराब हालत को देखते हुए अविलंब मरम्मत कराने,निर्माणाधीन सी परियोजना के चलते ओबरा प्रोजेक्ट अस्पताल में डॉक्टरों व पैरामेडिकल स्टाफ की भर्ती कराने, टेस्टिंग उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित कराने, उत्पादन निगम के लंबित भत्तों का पुनरीक्षण एवं उत्पादन प्रोत्साहन भत्ता बहाल करने की मांग की जिससे कार्मिकों का मनोबल बढ़ाया जा सके।

ओबरा इंटर कॉलेज में अध्यापकों और स्टाफ की भर्ती साथ ही अधिकारियों और कर्मचारियों के जिन मामलों में अनुशासनात्मक कार्यवाही वापस लेने हेतु प्रतिवेदन प्राप्त हो गया है, पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करते हुए दंडात्मक कार्रवाई वापस लेने की मांग की गई।गैर विभागीय एवं विभागीय लोगों द्वारा भी द्वेष वश या व्यक्तिगत वैमनस्यता के कारण सोशल मीडिया या अन्य माध्यम से लिखित शिकायत करने वाले लोगों पर भी कार्यवाही करने की मांग भी की गई।एमडी ने समिति को समस्त जायज मांगो पर सकारत्मक विचार करने के साथ 2008 बैच के सहायक अभियंताओं का जल्द प्रमोशन करने का आश्वासन दिया।
वार्ता के दौरान इं शशि कांत श्रीवास्तव दिनेश यादव अजय सिंह अंकित प्रकाश मनीष कुमार मिश्र बी आर पटेल प्रहलाद शर्मा आदि थे।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!