समायोजन की मांग को लेकर एम्बुलेंसकर्मियों का लगातार तीसरे दिन भी विरोध प्रदर्शन जारी

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

नहीं मानी गयी माँग तो कल से थम जाएंगे एम्बुलेंस के पहिये- अश्विनी पांडे

सोनभद्र । विभिन्न समस्याओं को लेकर चल रहा एंबुलेंस कर्मियों का विरोध प्रदर्शन लगातार तीसरे दिन भी जारी रहा। ने जिला अस्पताल में धरना दिया तथा समस्याओं का समाधान नहीं होने पर 26 जुलाई से उग्र आंदोलन की चेतावनी भी दी है।

आज जीवनदायनी स्वास्थ्य विभाग 108, 102 के जिलाध्यक्ष अश्विनी पांडेय के नेतृत्व में तमाम चालक और ईएमटी जिला अस्पताल में एकत्र हुए। यहां धरना देकर नारेबाजी की। इस दौरान कर्मचारियों ने मांग करते हुए कहा कि कंपनी बदलने पर एएलएस एंबुलेंस पर कार्यरत कर्मचारियों को न बदला जाए, अनुभवी कर्मचारियों ही रहेंगे। कोरोना महामारी के दौरान अग्रणी भूमिका निभा रहे कोरोना योद्धाओं, कोरोना वारियर्स एंबुलेंस कर्मचारी को ठेकेदारी से मुक्ति दी जाए। कोरोना काल में शहीद हुए आश्रितों के परिवार को जल्द बीमा राशि 50 लाख रुपये और सहायता राशि सरकार की तरफ से जारी हो। साथ ही कहा कि कंपनी बदलने पर वेतन में किसी भी तरह की कटौती न की जाए। कर्मचारियों की सहानुभूति पूर्वक यथा स्थिति नौकरी पर रखा जाए। प्रशिक्षण शुल्क के नाम पर कर्मचारियों से डीडी न ली जाए।

एम्बुलेंसकर्मियों ने चेतावनी देते हुए कहा कि सरकार और कंपनी मांगों को नहीं मानती है तो 26 जुलाई से कार्य बहिष्कार करने को बाध्य होंगे।

इस दौरान मणिशंकर, अरुण कुमार, धर्मेंद्र कुमार, जगरनाथ, चंदन, पप्पू, गया प्रसाद, योगेन्द्र व अन्य एम्बुलेंसकर्मी मौजूद रहे।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!