मछली के दुकान लगने से, रहसवासियों का जीना हुआ दुर्भर

विवेकानंद मिश्रा(संवाददाता)

शाहगंज। स्थानीय बाजार के बीचो बीच अभी शराब की दुकान को स्थानांतरित करने की मांग तो बहुत पहले से ही की जा रही थी, लेकिन मांग पूरी होने के बजाय उसी के ठीक सामने साधन सहकारी समिति के परिसर में मछली बाजार लगने से रहवासियों के लिए जीना दूभर हो गया है।यदि स्थानीय लोगों की माने तो आए दिन जाम के साथ ही साथ विवाद भी खड़ा होता है जिसके चलते कभी -कभार तो शाहगंज घोरावल मार्ग पर जाम की स्थिति होने लगती है। ग्राम पंचायत बेलाटांड़ के सदस्य हरिवंश केसरी उर्फ राजू केसरी ने बहुत पहले ही सीएम पोर्टल पर मछली बाजार को अन्यत्र स्थानांतरित करने के लिए मांग कर रखी थी, लेकिन ताज्जुब तो तब होता है इतनी जागरुकता के बाद भी शासन प्रशासन द्वारा इस विकट समस्या को नजरअंदाज कर दिया जाता है।हालांकि उन्होंने यह भी बताया जल्द ही यह मछली बाजार अन्यत्र स्थानांतरित ना हुआ तो ग्रामीणों के सहयोग से एक जन आंदोलन शुरू होगा ,जिसकी सारी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी। क्षेत्रीय ग्रामीणों में इस बात की भी चर्चा है क्या साधन सहकारी समिति के परिसर में किसकी अनुमति से यह मछली बाजार शुरू हुआ इस बात की भी उच्च स्तरीय जांच की जाए।ग्राम प्रधान प्रतिनिधि इरशान खान ,क्षेत्र पंचायत सदस्य रोहित चंद्रवंशी ,पंकज केसरी ,सौरव सोनी, आदि लोगों ने जल्द से जल्द इसको स्थानांतरित करने की मांग की है।भीषण गंदगी और उमस भरी गर्मी में ग्रामीणों का जीना दुश्वार हो गया है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!