म्योरपुर व दुद्धी में बागी प्रत्याशियों ने बिगाड़ा निर्विरोध का खेल, फिर खुलकर सामने आया भाजपा व अपनादल का कलह

एस प्रसाद (संवाददाता)

म्योरपुर । ब्लॉक प्रमुख पद हेतु म्योरपुर से दो प्रत्याशियों ने पर्चा दाखिल किया। जहाँ दोनों के पर्चे वैद्य पाये गए। आज गुरुवार को अपना दल से मानसिंह गोंड़ और भाजपा पार्टी से रामदुलार गोंड़ ने ब्लॉक कार्यालय में अपने प्रस्तावक के साथ पर्चा दाखिल किया।

म्योरपुर से दो प्रत्याशी मैदान में उतर जाने से राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गयी क्योंकि जिस हिसाब से भाजपा ने अपना दल के लिए दो सीट म्योरपुर व बभनी छोड़ा था उस हिसाब से म्योरपुर में अपनादल को निर्विरोध चुना जाना चाहिए था लेकिन भाजपा के रामदुलार गोंड के पर्चा दाखिला से फिलहाल आज निर्विरोध होने का चान्स खत्म हो गया । म्योरपुर की इस घटना से एक बार फिर दोनों पार्टियों में मनमुटाव खुलकर सामने आ गयी । क्योंकि म्योरपुर में भाजपा ने कोई प्रत्याशी घोषित नहीं किया यानी बागी प्रत्याशी के तौर पर उन्होंने पर्चा भरा । संगठन ने भी शाम तक कोई भी अनुशासनहीनता की कार्यवाही नहीं किया था।

सूत्रों की माने तो भाजपा दुद्धी की घटना को लेकर अपनादल से खफा है । वहाँ भी कहानी कुछ म्योरपुर की तरह ही है । दुद्धी में भाजपा ने अपना प्रत्याशी रंजना चौधरी घोषित किया था लेकिन ऐन वक्त पर अपनादल की प्रत्याशी नेहा जायसवाल ने नामांकन कर दिया । यदि दुद्धी में अपनादल की प्रत्याशी नामांकन फार्म नहीं भरती तो वहां बीजेपी निर्विरोध हो जाती । वहां भी पार्टी से बगावत कर नामांकन करने वाली प्रत्याशी नेहा जायसवाल के खिलाफ पार्टी ने कोई कार्यवाही नहीं किया है । फिलहाल दोनों सीटों पर कल अंतिम फैसला होना है क्योंकि कल पर्चा वापसी का दिन है । ऐसे में यदि दोनों बागी प्रत्याशी अपना पर्चा वापस ले लेते हैं तो दोनों निर्विरोध चुने लिए जाएंगे ।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!