भीषण गर्मी में अघोषित बिजली कटौती से लोग परेशान

कुलदीप चौरसिया (संवाददाता)

० लो वोल्टेज से भी उठानी पड़ रही है दिक्कत

सिंगाही खीरी। उमस भरी गर्मी में जहां लोग परेशान हैं । वहीं बिजली की कटौती बढ़ने से लोगों का जीना दूभर हो गया है। बीते दो दिनों में लगातार दिन में सात से आठ घंटे बिजली सप्लाई बाधित होने से निघासन क्षेत्र के ग्रामीण परेशान हैं। बिजली न रहने से उन्हें पानी की समस्या से भी दो-चार होना पड़ रहा है। पड़ रही भीषण गर्मी में लोग न अपने घरों में चैन से रह पा रहे है और ना ही बाहर ।
गौरतलब है कि जहां एक तरफ राज्य सरकार उपभोक्ताओं को 24 घंटे घरेलू बिजली आपूर्ति देने की बात कह रही है वहीं निघासन पावर हाउस के अधिकारियों की लापरवाही के चलते पिछले कई दिनों से हो रही अघोषित विद्युत कटौती से आमजनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है । कई बार ग्रामीणों द्वारा अधिकारियों से शिकायत की गई लेकिन अधिकारी कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं । जिसे लेकर क्षेत्रीय बिजली उपभोक्ताओं में अधिकारियों के प्रति आक्रोश देखा जा रहा है। अनुराग शुक्ला निवासी सिंगहा कलां, मुकेश दीक्षित, दयाराम, अनिल, मनोज वर्मा, रजनीश जैसवाल, राम मोहन दीक्षित आदि ने बताया कि पिछले कई दिनों से रात करीब 10 बजे बिजली काट दी जाती है और फिर 12 या 1 बजे तक आती है। और तो और सुबह करीब 8 बजे आती है और 11 या 12 बजे काट दी जाती है और फिर दिन में बिजली आती ही नही है, दो दिन से बिजली 24 घंटे में 10 घंटे भी मिलना मुश्किल हो गया है और साथ ही वोल्टेज को लेकर भी परेशान है। इसके लिए कई बार निघासन पॉवर हाउस के सीयूजी नम्बर पर फोन करो तो वहां मौजूद कर्मचारियों की ओर से ऊपर से बिजली कटौती की बात कहकर टाल दी जाती है। ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया है कि जेई का फोन तो कभी लगता ही नहीं है और ना ही कार्यालय पर मुलाकात होती है। उपभोक्ताओं ने बताया कि नियमित विद्युतापूर्ति नहीं होने से गर्मी के कारण बीमारी फैलने की आशंका बनी हुई है।
ग्रामीणों कहना है कि अगर अधिकारी अपने मनमाने रवैया से बाज नहीं आये तो हम जिला कार्यालय पहुंचकर आंदोलन करेंगे, जिसकी संपूर्ण जवाबदारी जिला प्रशासन व बिजली विभाग के कर्मचारियों की होगी।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!