डायरिया का प्रकोप जारी, आधा दर्जन से ज्यादा गंभीर

संजीव कुमार पांडेय (संवाददाता)

राजगढ़ । विकास खंड राजगढ़ के ददरा गांव में डायरिया का कहर गंभीर रूप धारण कर रहा है। जिसकी चपेट में बस्ती के दर्जनों लोग आ चुके हैं। बीते दिनों डायरिया से दो की मौत हो चुकी है क्षेत्र में लगातार हुई बरसात से जहां पेयजल प्रदूषित हो गया। वहीं हैंडपंप के आस-पास फैली गंदगी व बजबजाती नालियां संक्रमित बिमारियों को जन्म दे रही हैं। सफाई कर्मी मौके पर जाकर के नियमित सफाई नहीं करते जिससे लगातार तीसरे दिन ददरा गांव के पहड़ी पूर्वा की दलित बस्ती में दर्जनों लोग डायरिया के चपेट में आ गए है। और गंभीर स्थिति से जूझ रहे हैं। बरसाती मौसम में जगह जगह जमा हो रहे वर्षा जल एवं गलियों में फैली गंदगी से संक्रमित बिमारियां तेजी से बढ़ रही है जिसमें छोहाड़ा देवी (38वर्ष), खुशबू पुत्री छोहाड़ा (17वर्ष), शिवानी (25वर्ष) तथा कमला प्रसाद (60वर्ष) जबकि गोविंद नामक व्यक्ति को बीती रात ही भर्ती किया गया था, जिसका इलाज कर घर भेज दिया गया।

जबकि गुरुवार को अपर मुख्य चिकित्साधिकारी अरूण कुमार सिंह व संक्रामक रोग नियंत्रक डाक्टर विरेन्द्र कुमार की टीम ने पूरे दलबल के साथ उक्त गांव व स्थल का जायजा लिया था और आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया था। लेकिन गांव की स्थिति दिन ब दिन बिगड़ती जा रही है। बिते दिनों से लगातार संक्रमण फैल रहा है लेकिन स्वास्थ्य विभाग द्वारा अभी तक किसी भी प्रकार के आवश्यक कदम नहीं उठाए गए जिससे कइयों की जिंदगी दाव पर लगी हुई है। ज्ञात हो कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रदेश के ऊर्जा राज्य मंत्री ने गोद लिया हुआ है फिर भी स्थिति नियंत्रण में नहीं हो पा रही है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!