जिपं अध्यक्ष पद के लिए सस्पेंस बरकरार, दुद्धी विधायक ने दिखाए बगावती सुर, पार्टी में दिखने लगा मतभेद

आनंद कुमार चौबे (संवाददाता)

दुद्धी विधायक ने कहा, बाहरी प्रत्याशी आया तो लड़वाऊंगा अपनी बहू कविता को

● जब चार नाम पार्टी ने सुझाये तो बाहरी प्रत्याशी पर विचार क्यों- हरिराम चेरो

● मैं संगठन के खिलाफ नहीं, गलत के खिलाफ हूँ- हरिराम चेरो

सोनभद्र । 24 घण्टे बीत जाने के बाद भी जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए नामों की घोषणा अपना दल (एस0) नहीं कर सकी है। कल ही अपना दल की जिला इकाई ने बैठक कर चार नाम अपने शीर्ष नेतृत्व को भेजा था। उम्मीद यह जतायी जा रही थी कि उन्हीं चार नामों में से एक नाम फाइनल किया जाएगा लेकिन इसी बीच दुद्धी विधायक हरिराम चेरो ने अपना बगावती सुर अलापना शुरू कर दिया है। आज सर्किट हाउस में प्रेस कांफ्रेंस कर दुद्धी विधायक ने कहा कि जब चार नाम संगठन ने सुझा दिए हैं तो फिर देर क्यों हो रही है। उनका कहना है कि उन्हें जो सूचना मिल रही है कि कोई बाहर से भी नाम चल रहा है। उन्होंने मीडिया से साफ कहा कि यदि ऐसा है तो वे अपनी बहू कविता चेरो को निर्दल प्रत्याशी के रूप में अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़वाएँगे। दुद्धी विधायक ने कहा कि जब सीट अपना दल (एस0) जब खाते में है तो फिर बाहरी व्यक्तियों पर विचार क्यों किया जा रहा। उन्होंने यहाँ तक कहा कि उनकी बहू कविता चेरो ने अध्यक्ष पद के लिए नामांकन फार्म भी खरीद लिया है।

देखें दुद्धी विधायक ने क्या कहा, करें क्लिक

जिस तरीके से सोनभद्र जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए लगातार ट्विस्ट पर ट्विस्ट आ रहा है। ऐसे में दुद्धी विधायक का यह बगावती सुर पार्टी के लिए काफी महंगा पड़ सकता है।

हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि उनका इरादा यह बिल्कुल नहीं कि वे अपने बहु को चुनाव लड़ाना चाहते हैं लेकिन उनका कहना है कि जब अपना दल में प्रत्याशी मौजूद हैं तो आखिर बाहरी लोगों के बारे में विचार क्यों किया जा रहा है ल। यदि यहीं करना था तो अपना दल ने सोनभद्र की सीट अपने खाते में क्यों ली।

बहरहाल अब से कुछ देर बाद पार्टी प्रेस कांफ्रेंस कर अपने प्रत्याशी के नामों की घोषणा कर देगी लेकिन अभी तक तो सस्पेंस बना हुआ है। ऐसे में विधायक के बगावत के बाद अब अपना दल को संगठन बचाने की दिशा में भी सोचना होगा।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!