वीरांगना महारानी दुर्गावती का 457 वां बलिदान दिवस मनाया

संजय केसरी (संवाददाता)

डाला। ओबरा विधायक संजीव कुमार गोड़ के नेतृत्व में विधान सभा ओबरा के बीजेपी कार्यालय डाला स्थित बाड़ीं में वीरांगना महारानी दुर्गावती का 457 वां बलिदान दिवस मनाया गया। इस अवसर पर वीरांगना महारानी दुर्गावती के चित्र पर माल्यार्पण के साथ दिप जला कर नमन किया गया।

सभा को संबोधित करते हुए विधायक संजीव कुमार गोंड ने महारानी के कृतित्व पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि महारानी दुर्गावती निडर, वीर के साथ ही प्रजा हितैषी भी थीं, इनका विवाह गढ़ा मंडला के राजा दलपत शाह के साथ हुआ था। रानी दुर्गावती के ऐश्वर्य की गाथा जब अकबर को पता चला कि गढ़ा मंडला की शासक एक स्त्री है, तो उसके आंखों में खटकने लगा। वह कई बार गढ़ा मंडला पर आक्रमण किया, लेकिन महारानी के आगे उसकी एक न चली। अकबर द्वारा बार-बार हमला करने पर रानी ने वीरता से जवाब दिया, जब उन्हें लगा कि वह बंदी बना ली जाएंगी तब महारानी ने अपनी कटार से अपने को बलिदान कर दिया। इस दौरान गोंडवाना समाज के अध्यक्ष शम्भू गोंड, धर्मार्थ रघुराई , रामसागर खरवार , रामबरन,, मिठाई लाल गोंड़ , विजय यादव, मदन गोंड, टाटा चौधरी, ओम प्रकाश शर्मा, बबलू, आदि मौजूद रहे।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!