पेयजल आपूर्ति ठप होने से सैकड़ों घरों में पानी की किल्लत बढ़ी

धर्मेन्द्र गुप्ता (संवाददाता)

विंढमगंज।थाना क्षेत्र के नक्सल प्रभावित धोरपा, हुमेलदोहल, पकरी आदि गांवों में बिजली आपूर्ति ठप हो जाने से पेयजल आपूर्ति ठप हो गई है तथा ग्रामीण इन दिनों गरमी और मच्छरों के प्रकोप से तंग आ गए हैं।ग्रामीणों ने बताया कि पुराने जर्जर लोहे के पोल में जमीन से अर्थ मिलते ही यहां बार बार फ्युज उड़ जा रहा है।धोरपा पेयजल संयंत्र से होने वाली पेयजल आपूर्ति बंद है जिसके कारण सैकड़ों घरों में पानी की किल्लत हो गई है।करीब चार दिनों से बिजली आपूर्ति बाधित हो जाने के कारण ग्रामीण काफी मुश्किलें झेल रहे हैं।अमवार विद्युत सब स्टेशन से विंढमगंज की ओर जाने वाली मेन लाइन में दो दर्जन से अधिक लोहे के पोल लगाये गये हैं।ग्रामीणों ने कहा कि छत्तरपुर गांव में लोहे के जर्जर हो चुके पोल में जमीन से अर्थ मिलते ही यहां बार बार फ्युज उड़ जाता है।चार दिन पहले इस तरह की आई खराबी को रविवार को दुरुस्त किया गया लेकिन पांच मिनट के भीतर ही फ्युज उड़ गया।बिजली आपूर्ति बाधित हो जाने के कारण छत्तीसगढ़ और झारखंड की सीमा से सटे पकरी, धोरपा, हुमेलदोहर आदि गांव अंधेरे में डूब गए हैं।अशोक कुमार, पुरुषोत्तम, धन्नु प्रसाद, ज्वाला प्रसाद, प्रदीप कुमार ने बताया कि विद्युत विभाग को इस संबंध में कई बार कहा गया लेकिन यह ठीक नहीं किया गया। धोरपा जल संयंत्र पर तैनात कर्मचारी विनोद गिरी ने बताया कि बिजली आपूर्ति बाधित हो जाने के कारण आसपास के गांवों में पेयजल की आपूर्ति भी बंद हो गई है।

अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!