प्रधानमंत्री मोदी व उद्धव ठाकरे की मुलाकात के बाद चर्चाओं का बाजार गर्म, उद्धव बोले- कोई नवाज शरीफ से मिलने नहीं गया था

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुलाकात को लेकर राजनीतिक हलकों में चल रही चर्चाओं पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को कहा कि इस तरह की मुलाकात में कुछ भी गलत नहीं है। उन्होंने व्यंगात्मक लहजे में कहा कि वह कोई पाकिस्तान के नेता नवाज शरीफ से मिलने नहीं गए थे। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने कहा कि भले ही उनकी पार्टी और भाजपा अलग हो गए हैं लेकिन ‘‘संबंध खत्म नहीं हुए हैं।’’ ठाकरे ने एक प्रतिनिधिमंडल के साथ राज्य के मुद्दों पर मोदी से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल में राकांपा के एक वरिष्ठ नेता एवं उपमुख्यमंत्री अजित पवार और कांग्रेस के अशोक चव्हाण भी शामिल थे।

ठाकरे ने प्रधानमंत्री के साथ अकेले में भी वार्ता की। मोदी के साथ मुलाकात पर एक सवाल के जवाब में ठाकरे ने कहा, ‘‘राजनीतिक रूप से आज हम उनके साथ नहीं हैं लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि हमारे संबंध समाप्त हो गए हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘उनसे (मोदी) अकेले में मुलाकात में भी कुछ गलत नहीं है। मैं (पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री) नवाज शरीफ से मिलने नहीं गया था। अगर मैं उनसे व्यक्तिगत मुलाकात करने गया तो इसमें गलत क्या है?’’उन्होंने कहा कि पिछले एक वर्ष में कई बार उन्होंने मोदी से वार्ता की। मुख्यमंत्री पद के मुद्दे पर शिवसेना-भाजपा गठबंधन 2019 में टूट गया था। भाजपा के सबसे पुराने गठबंधन सहयोगियों में शामिल शिवसेना ने बाद में राकांपा और कांग्रेस के साथ मिलकर महाराष्ट्र में महाविकास आघाडी सरकार का गठन किया था।

इसके बाद से दोनों दलों के बीच तनाव है और दोनों एक-दूसरे पर प्रहार करने का कोई मौका नहीं छोड़ते हैं। ठाकरे ने कहा, ‘‘जब चक्रवात ताउते आया था… तब उन्होंने (प्रधानमंत्री मोदी) फोन किया और कहा कि आपकी सरकार कोविड-19 महामारी से निपटने में अच्छा काम कर रही है। यह हम दोनों के बीच वार्ता हुई। इसलिए आज भी हमारे बीच बातचीत हुई है। मैंने उनसे कहा कि मैं यहां अपने सहयोगियों के साथ राज्य की समस्याओं पर चर्चा करने आया हूं।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!