हत्या के विरोध में ग्रामीणों ने की पत्थरबाज़ी, एसडीएम व दो एसओ ने भागकर बचाई जान

फ़ैयाज़ खान मिस्बाही(ब्यूरो)

गाजीपुर।करीमुद्दीनपुर थाना क्षेत्र के बनइपुर निवासी पिकअप चालक रामधनी राम (45) की गुरुवार की रात लोहे के रॉड से पीट-पीट कर हत्या के विरोध में शनिवार को ग्रामीणों ने जमकर बवाल काटा। ढोढाडीह रेलवे स्टेशन के सामने चक्का जाम करने के साथ ही जमकर पत्थरबाजी की।
मुहम्मदाबाद एसडीएम राजेश गुप्ता, सीओ राजीव द्विवेदी, कासिमाबाद सीओ विजय आनंद शाही ने किसी तरह भाग कर अपनी जान बचाई। वहीं आधा दर्जन पुलिस गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस की दो जीप सहित आधा दर्जन बाइक को क्षतिग्रस्त कर दिया। पत्रकारों को भी लक्ष्य कर पत्थरबाजी करते हुए उनकी बाइकों को भी तोड़ दिया। मौके डीएम-एसपी को बुलाने की मांग कर रहे हैं। अभी भी तनाव बना हुआ है।

हत्यारोपितों को बचाने का आरोप
मामले में रामधनी की पत्नी गुदनी ने बनइपुर के चार लोग जयराम राजभर, हरेराम राजभर, आशु राजभर, अमित राजभर सहित दो अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया है। अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। ग्रामीणों का आरोप है कि सभी आरोपितों को पुलिस बचा रही है।
पुलिस के सामने से यह सभी फरार हो गए। इतना ही नहीं इससे पहले भी यह सभी लूट जैसे संगीन घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इससे आक्रोशित ग्रामीणों ने ढोढाडीह रेलवे स्टेशन के सामने जाम कर दिया। एसओ रामनेवास ने समझाने का प्रयास किया, लेकिन डीएम-एसपी को मौके पर बुलाने की मांग पर ग्रामीण अड़े रहे। देखते ही देखते मौके पर सैकड़ों लोग जमा हो गए। तब तक मुहम्मदाबाद एसडीएम, सीओ, कासिमाबाद सीओ सहित कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई। यह देख ग्रामीणों ने ताबड़तोड़ पत्थराव शुरू कर दिए।



अपने शहर के एप को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे |  हमें फेसबुक,  ट्विटर,  और यूट्यूब पर फॉलो करें|
loading...
Back to top button
error: Content is protected !!